बिज़नेस

नए साल पर 2000 का नोट होगा बंद? जानें क्या है सच

क्या आपके पास भी सोशल मीडिया के माध्यम से कोई ऐसा मैसेज आया है कि नए साल पर 1000 रूपये का नया नोट आएगा और 2000 का नोट बंद हो जाएगा।

क्या आपके पास भी सोशल मीडिया के माध्यम से कोई ऐसा मैसेज आया है कि नए साल पर 1000 रूपये का नया नोट आएगा और 2000 का नोट बंद हो जाएगा।

अगर इसका जवाब हां है और आपके मन में इस मैसेज को लेकर कई सवाल उठ रहे है कि आखिरकार इसकी सचाई क्या है।

नरेंद्र मोदी सरकार ने साल 2016 में नोटबंदी की घोषणा करके रातोंरात देश को हिला दिया था। पीएम मोदी ने रातोंरात 500 और 1000 रुपये के नोटों को चलन से बाहर कर दिया और लोगों को अपने पुराने नोटों को बदलने, पैसे जमा करने या एटीएम से एक निश्चित राशि निकालने का समय दिया था।

हालांकि, सरकार के इस कदम पर आज भी चर्चा की जाती है, और विपक्ष भाजपा सरकार को इस पर घेरता नजर आता है। वहीं, केंद्र सरकार की तरफ से पिछले दिनों पुष्टि की गई थी कि 2019 के बाद 2000 रूपये के नोटों की छपाई के लिए किसी भी तरह का नया मांगपत्र नहीं दिया गया है।

ऐसें में इसके बाद सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रहे वीडियो में दावा किया जा रहा है कि 1 जनवरी, 2023 से 1000 रूपये के नोट वापस आ रहे है।

साथ ही इस दावे में ये भी कहा जा रहा है कि 2000 रूपये के नोट बैंक वापस लौट जाएंगे। लेकिन आपकों बता दे कि इस दावे में सचाई नहीं हैं।

ऐसी क‍िसी भी खबर से अपडेट रहना जरूरी है ज‍िसमें गलत दावा क‍िया जा रहा है। आपको बता दें 2000 रुपये के नोटों को वापस लेने और 1000 रुपये के नोटों को फिर से पेश करने की सरकार की कोई योजना नहीं है।

सरकार ने Demonetization के तहत नवंबर 2016 में 1000 रुपये के नोटों को बंद कर द‍िया था। इसकी जगह आरबीआई ने 2000 रुपये का नया नोट जारी क‍िया था।

लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल हो रही वीडियो में झूठा दावा किया जा रहा है। इसका खुलासा केंद्र सरकार की आध‍िकार‍िक फैक्ट चेकर PIB Fact Check ने किया।

साथ ही लोगों को इस तरह के फर्जी और भ्रामक संदेशों को फॉरवर्ड करने के खिलाफ आगाह भी किया है। PIB Fact Check की तरफ से क‍िए गए ट्वीट में बताया गया क‍ि यह दावा फर्जी है।

वहीं व‍ित्‍त मंत्रालय की तरफ से हाल ही में संसद में एक ल‍िख‍ित प्रश्‍न के उत्‍तर में कहा गया क‍ि साल 2018-19 के बाद से 2000 रुपये के नोटों की छपाई के लिए प्रेस के सामने क‍िसी तरह का नया मांगपत्र नहीं द‍िया गया है।

Accherishteyये भी पढ़े: फ्री राशन लेने वालों को लगेगा झटका! 31 दिसंबर को खत्म हो जाएगी ये राशन स्कीम

Aanchal Mittal

आँचल तेज़ तर्रार न्यूज़ में रिपोर्टर व कंटेंट राइटर है। इन्होने दिल्ली के सोशल व प्रमुख घटनाओ पर जाकर रिपोर्टिंग की है व अपनी कवरेज में शामिल किया है। आम आदमी की समस्याओ को इन्होने अपने सवालो द्वारा पूछताछ करके चैनल तक पहुँचाया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button