देशबिज़नेस

पेट्रोल डीजल से लेकर गैस सिलेंडर होगा सस्ता, जान‍िए सरकार की पूरी प्‍लान‍िंग

देश में लगातार पिछले तीन महीने से रिटेल इन्फ्लेशन में गिरावट देखने के बाद आज मेहंगाई दर मे उछाल देखने को मिला। अगस्त में खुदरा मेहंगाई दर

देश में लगातार पिछले तीन महीने से रिटेल इन्फ्लेशन में गिरावट देखने के बाद आज मेहंगाई दर मे उछाल देखने को मिला। अगस्त में खुदरा मेहंगाई दर उछलकर 7 प्रतिशत तक पहुंच गया था। इसी के साथ इस बढ़ती मेहंगाई से जनता को रहत देने के लिए सरकार ने एक बड़ी निति तैयार की है। कुछ दिन पहले ही एक र‍िपोर्ट से जानकारी मिली थी क‍ि तेल कंपन‍ियों को गैस स‍िलेंडर और पेट्रोल पर किसी भी तरह का घाटा नहीं हो रहा है। लेकिन उन्‍हें डीजल की ब‍िक्री पर नुकसान हो रहा है।

20,000 करोड़ रुपये देने का व‍िचार:

बता दें, तेल कंपन‍ियों के घाटे की भरपाई करने और सभी जनता को महंगाई से राहत पाने के ल‍िए सरकार, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) जैसे सरकारी फ्यूल रिटेलर्स को 20,000 करोड़ रुपये देने का सोच रही है। जिससे सरकार, फ्यूल रिटेलर्स को हुए पुरे नुकसान की भरपाई करने का प्रयास कर रही है. इससे आने वाले वक्त में गैस स‍िलेंडर की कीमत में गिरावट आ सकती हैं। अभी एलपीजी स‍िलेंडर के दाम 1053 रुपये के अपने उच्‍च स्‍तर पर है।

पेट्रोल-डीजल की कीमत काबू:

दरअसल, सरकार का प्रयास घरेलू गैस के साथ ही पेट्रोल-डीजल के दामों को काबू में रखने का है। इस मामले में पूरी जानकारी रखने वाले लोगों ने इस पर खबर देते हुए कहा क‍ि सरकारी तेल कंपनियों को बाहर के दामों पर क्रूड खरीदना पड़ता है और प्राइस-सेंसिटिव मार्केट में इसकी बि‍क्री करनी पड़ रही है। दूसरी तरफ न‍िजी कंपनियों के पास स्ट्रॉन्गर फ्यूल एक्सपोर्ट मार्केट को टैप करने की सुविधा भी है।
Insta loan services

यह भी पढ़े: दिल्ली में खत्म हुई शराब पर मिलने वाली बंपर छूट, जानें नई नीतियां

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button