बिज़नेस

इस स्कीम से पाए 25 साल तक फ्री बिजली, बस करना होगा ये काम

महंगाई ने लोगों का बजट बिगाड़ रखा है और रोजमर्रा की वस्तुओं की कीमतें आसमान छू रही है जिसके चलते आम लोगों की ज़िंदगी और जेब पर काफी असर पड़ रहा है

महंगाई ने लोगों का बजट बिगाड़ रखा है और रोजमर्रा की वस्तुओं की कीमतें आसमान छू रही है जिसके चलते आम लोगों की ज़िंदगी और जेब पर काफी असर पड़ रहा है लेकिन आप चाहे तो एक तरीके अपनाकर आप अपने खर्चे को कम कर सकते है पर आपको इसके लिए एक बार बस थोड़े सी राशि खर्च करनी होगी। इस काम के लिए आपको सरकार से भी मदद मिल जाएगी। बस आपको अपनी छत पर सोलर पैनल लगवाना है।

आपको बता दें कि सोलर प्लेट लगवाने से आप महगी बिजली से छुटकारा पा सकते है। जानकरी के मुताबिक इसके लिए सब्सिडी भी दी जा रही है अगर आप अपनी घर की छत पर सोलर पैनल लगवाना चाहते है तो आपको सब्सिडी मिल जाएगी। लेकिन इस बात का पहले बताना होगा की आपको कितनी बिजली की जरुरत है। इससे आपको पता चल जायेगा की आपको कितनी कैपेसिटी वाला पैनल लगवाना है।

अगर आपके घर में 2 या 3 पंखे, फ्रिज, 6-8 LED बल्ब या लाइट, मोटर और TV जैसी बिजली से चलने वाली चीज़े है तो आपको रोजाना 6 से 8 यूनिट बिजली की जरुरत पड़ेगी। इसके लिए आपको 2 किलोवाट वाले सोलर पैनल की जरुरत पड़ेगी। भारत में ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (Ministry of New & Renewable Energy) ने सोलर रूफटॉप योजना की शुरुआत की है।

और अगर आप 3 किलोवाट तक का सोलर पैनल लगवाते है तो सरकार की तरफ से आपको 40 फीसदी तक की सब्सिडी मिल जाएगी। अगर आप 2 किलोवाट का पैनल लगवा रह है तो इसमें करीब 1.20 लाख रुपए का खर्चा आएगा। ऐसे में सिर्फ आपको 72000 खर्च करने होंगे बाकि 48000 की आपको सिब्सिड़ी मिल जाएगी।

कैसे करे अप्लाई?

  • सबसे पहले अपना राज्ये चुने फिर अपनी बिजली वितरण कम्पनी का चयन करे। उसके बाद अपना बिजली उपभोगता नंबर दर्ज करे फिर अपना मोबाइल नंबर और ईमेल दर्ज करे फिर पोर्टल की गाइडलाइंस का पालन करें।
  • इसके बाद उपभोक्ता नंबर और मोबाइल नंबर के साथ लॉगिन करें फिर उसके बाद रूफटॉप सोलर के लिए फॉर्म के अनुसार आवेदन करें।
  • उसके बाद DISCOM से अप्रूवल के लिए प्रतीक्षा करनी होगी। अप्रूवल मिल जाने के बाद DISCOM पैनल में किसी भी रजिस्टर विक्रेता से सोलर पैनल लगवा सकते है। सोलर पैनल लगने के बाद उसके डिटेल्स को जमा करनी होगी और नेट मीटर के लिए आवेदन करना होगा।
  • DISCOM द्वारा नेट मीटर लगाये जाने और निरीक्षण के बाद, वे पोर्टल से कमीशनिंग प्रमाण पत्र जेनरेट करेंगे। कमीशनिंग रिपोर्ट प्राप्त कर लेने के बाद पोर्टल के माध्यम से बैंक खाते की डिटेल्स और कैंसिल चेक जमा करना होगा। फिर सब्सिडी की राशि आपके खाते में 30 दिनों के अंदर आ जाएगी।

Accherishtey

यह भी पढ़ें: CBSE Board Exam 2023: सीबीएसई 10वीं-12वीं की डेटशीट अपडेट, ऐसे करें चेक

Jagjeet Singh

जगजीत सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे हैं। इन्होंने टेक्निकल, विश्व और एजुकेशन से सम्बंधित लेखो को अपने लेखन में प्रकाशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button