बिज़नेस

Income tax: 10.09 करोड़ पैन कार्ड धारकों ने इनकम टैक्स भरा, केवल 7.76 करोड़ ने आईटीआर दाखिल की

कर चोरी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।

2022-23 में 10.09 करोड़ पैन कार्ड धारकों ने इनकम टैक्स भरा, लेकिन केवल 7.76 करोड़ ने अपनी आय की जानकारी आईटीआर दाखिल की। यह बड़ी संख्या है और इससे साफ होता है कि भारत में कर चोरी की समस्या अभी भी बहुत बड़ी है।

इस संकट का सबसे बड़ा कारण है जनता की जागरूकता की कमी। बहुत से लोग इनकम टैक्स को देने से बचने के लिए अपनी आय की सही जानकारी नहीं देते। इसके अलावा, कुछ लोग धारावाहिक रूप से कर चोरी करते हैं जिससे समाज को नुकसान होता है।

सरकार को इस समस्या का समाधान निकालने के लिए कठिन कदम उठाने होंगे। पहले तो, जनता को इनकम टैक्स के महत्व को समझाने के लिए जागरूक किया जाना चाहिए। साथ ही, कर चोरी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।

इस समस्या का हल निकालने के लिए सरकार को नए और सख्त कानून बनाने चाहिए जिससे कर चोरी करने वालों को सजा हो। साथ ही, जनता को इनकम टैक्स के महत्व को समझाने के लिए शिक्षा कार्यक्रम चलाने चाहिए।

इसके अलावा, सरकार को नए और सरल तरीके ढूंढने चाहिए जिससे लोग अपनी आय की सही जानकारी दे सकें और इनकम टैक्स देने में आसानी हो। इसके लिए डिजिटल प्रक्रिया को और अधिक सुगम बनाने की जरूरत है।

समाप्त में, इस समस्या का हल निकालने के लिए सरकार, जनता और संघर्ष करने वाले सभी व्यक्तियों को मिलकर काम करना होगा। इससे ही हम एक नए भारत की ओर बढ़ सकते हैं जहां सभी नागरिक ईमानदारी से अपना टैक्स देते हैं और देश की विकास में योगदान देते हैं।

Accherishtey
यह भी पढ़ें: दिल्ली के इंद्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशन के पास दो गाड़ियों में टक्कर, 2 की मौत, 2 घायल

Related Articles

Back to top button