बिज़नेस

Income tax: निवेश के पैसे पर आयकर के नियमों को समझे, फॉर्म भरना है जरुरी

सेविंग अकाउंट, एफडी और बॉन्ड जैसे निवेशों पर ब्याज के पैसे पर कर लगता है।

सेविंग अकाउंट, एफडी और बॉन्ड जैसे निवेशों पर ब्याज के पैसे पर कर लगता है। इसके लिए टैक्स नियमों के अनुसार निर्धारित दरों पर टैक्स लगाया जाता है। सामान्यत: इसे ब्याज के रूप में जाना जाता है और इस पर आयकर के रूप में टैक्स लगता है।

सेविंग अकाउंट: सेविंग अकाउंट में जमा किए गए धन के ब्याज पर आयकर लगता है। इसके लिए आमतौर पर बैंक आपको आयकर कटौती के रूप में एक फॉर्म भरने के लिए कहता है और फिर वह आपके ब्याज के पैसे पर आयकर काटकर आपके खाते में जमा कर देता है।

एफडी: एफिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) पर भी ब्याज के पैसे पर आयकर लगता है। इसमें भी बैंक आपके ब्याज के पैसे पर आयकर काटकर आपके खाते में जमा कर देता है।

बॉन्ड: बॉन्ड निवेश पर भी ब्याज के पैसे पर आयकर लगता है। बॉन्ड के ब्याज पर आयकर कटौती के लिए नियमित रूप से आपको आयकर विभाग के नियमों के अनुसार फॉर्म भरना पड़ता है।

इस प्रकार, सेविंग अकाउंट, एफडी और बॉन्ड जैसे निवेशों पर ब्याज के पैसे पर आयकर लगता है। आपको अपने निवेश के पैसे पर आयकर के नियमों को समझकर उनके अनुसार कार्रवाई करनी चाहिए।

Accherishtey
यह भी पढ़ें: दिल्ली के इंद्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशन के पास दो गाड़ियों में टक्कर, 2 की मौत, 2 घायल

Related Articles

Back to top button