देशबिज़नेस

अब नहीं उठा पाएंगे पुलिस वाले वर्दी का धौंस, हेलमेट नहीं पहना तो दोगुना कटेगा चालान

अक्सर देखा जाता है कि कई बार पुलिस वाले वर्दी का फायदा उठाकर हेलमेट नहीं पहनते। मगर अब चालान की लिस्ट में वे पुलिसवाले भी शामिल हो चुके हैं

देश में सभी लोगों को हेलमेट पहनने के लिए जागरूक किया जाता है और न पहनने पर चालान भी काटा जाता है। वही इसी को लेकर सभी राज्यों की ट्रैफिक पुलिस सख्त हो रखी हैं जिससे लोगों का तगड़ा चालान भी किया जा रहा है। जानिए पूरी खबर

लेकिन अक्सर देखा जाता है कि कई बार पुलिस वाले वर्दी का फायदा उठाकर हेलमेट नहीं पहनते। मगर अब चालान की लिस्ट में वे पुलिसवाले भी शामिल हो चुके हैं, जो हेलमेट पहनने के नियम की धज्जियां उड़ा देते हैं। दरअसल, उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में बगैर हैलमेट लगाकर बाइक चलाने वालों पर सख्ती करने के निर्देश दिए हैं। वही पुलिस के लिए भी दिशा निर्देश जारी किये हैं। साथ ही बगैर हेलमेट लगाकर वाहन चलाने पर पुलिसकर्मियों को दोगुना चालान भी जमा करना होगा।

पुलिसवालों का दोगुना चालान कटेगा

ऐसे में अब पुलिस वालों के लिए जारी हुए नोटिफिकेशन में बताया गया कि जिस जगह पर गाड़ी का चालान होता है। वहां से कोई पुलिसकर्मी बगैर हेलमेट से गुजर जाता है तो उसका चालान नहीं होता। लेकिन ऐसे में जिस व्यक्ति का चालान होता है वो खुद को ठगा महसूस करता है। जिसके चलते अब र्देश दिए हैं कि ऐसे पुलिसवालों के भी चालान किए जायेंगे और साथ ही, बाइक पर पीछे बैठने वाले को भी हेलमेट लगाना अनिवार्य होगा।

बदल गया हेलमेट पहनने के नियम

हालाँकि, नए नियमों के मुताबिक आपके हेलमेट पहनने पर भी 2000 रुपए के चालान कट सकता है और ये इसलिए काट सकता है क्योकि उसकी क्ववालिटी और उसका ठीक से नहीं पहनना आपको हज़ारो का चलन बनवा सकता है। ऐसे में मोटर व्हीकल एक्ट के अनुसार, मोटरसाइकिल या स्कूटर पर हेलमेट की स्ट्रिप नहीं बांधने पर 1000 रुपए का चालान कटेगा और यह चालान 194D MVA के तहत काटा जाएगा। इतना ही नहीं आपका हेलमेंट BIS सर्टिफिकेशन भी होना चाहिए अगर ये नहीं है या फिर डिफेक्टिव है, तो भी 1000 रुपए का चालान कट सकता है।

Accherishteyये भी पढ़े: गाड़ियों के लिए फिर से बदला गया है नंबर प्लेट सिस्टम, लगाई जाएगी Toll Plate

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button