बिज़नेस

अब ट्रेनों में नहीं होगा गार्ड! कौन दिखाएगा हरी झंडी? नया नियम लागू

अगर आप भी ट्रैन में सफर करते है तो आपके लिए रेलवे के इस नए नियम के बारे में जानना बहुत जरुरी है बता दें कि रेलवे के नए नियम के अनुसार अब ट्रैन में कोई गार्ड नहीं होगा

अगर आप भी ट्रैन में सफर करते है तो आपके लिए रेलवे के इस नए नियम के बारे में जानना बहुत जरुरी है बता दें कि रेलवे के नए नियम के अनुसार अब ट्रैन में कोई गार्ड नहीं होगा। रेलवे ने गार्ड का पदनाम बदलने का फैसला लिया है और इस बदलाव के बाद गार्ड को गुड्स ट्रैन मैनेजर कहा जायेगा।

रेलवे ने कर्मचारियों की कई साल पुरानी इस मांग को पूरा करते हुए रेलवे ने गार्ड (Railway Guard) के पदनाम को बदल दिया है ऐसे में अब ट्रैन के गार्ड को ट्रैन मैनेजर कहा जायेगा। बता दें कि रेलवे की तरफ से सभी जोन के जीएम को लिखित में सूचना भी दी है और इस बदलाव को तत्काल लागु भी कर दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक रेलवे कर्मचारी 2004 से गार्ड का पदनाम बदलने की मांग कर रहे थे. रेलवे ने गार्ड का पदनाम बदल दिया है लेकिन जिम्मेदारियां पहले जैसी ही रहेंगी। इसके अलावा ट्रैन में लोगों की जरूरतों को पूरा करने के अलावा यात्री की सुरक्षा और ट्रैन की देख-रेख की जिम्मेदारी भी गार्ड पर ही होगी। इसलिए पदनाम बदलने की मांग को रेलवे ने मान लिया।

पुराना पदनाम- नया पदनाम

    • असिस्टेंट गार्ड- असिस्टेंट पैसेंजर ट्रेन मैनेजर
    • गुड्स गार्ड- गुड्स ट्रेन मैनेजर
    • सीनियर गुड्स गार्ड से सीनियर गुड्स ट्रेन मैनेजर
    • सीनियर पैसेंजर गार्ड से सीनियर पैसेंजर ट्रेन मैनेजर
    • मेल / एक्सप्रेस गार्ड- मेल/एक्सप्रेस ट्रेन मैनेजर

Vishalgarh Farms

ये भी पढ़े: दिल्ली मेट्रो में अब मोबाइल से कर पाएंगे एंट्री और एग्जिट, शुरू हुई ये नई सुविधा

Jagjeet Singh

जगजीत सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे हैं। इन्होंने टेक्निकल, विश्व और एजुकेशन से सम्बंधित लेखो को अपने लेखन में प्रकाशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button