बिज़नेस

Pension hike: पेंशन को 7,500 रुपये प्रतिमाह करने की मांग, विरोध प्रदर्शन जारी

सरकार को चाहिए कि वह पेंशनभोगियों की मांगों को गंभीरता से लेकर उनकी समस्याओं का समाधान करे।

भारतीय सरकार के ईपीएस-95 के तहत न्यूनतम पेंशन को 7,500 रुपये प्रतिमाह करने की मांग पर पेंशनभोगी विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इस मांग के पीछे उनका मुख्य आरोप है कि वर्तमान न्यूनतम पेंशन राशि उनकी आर्थिक स्थिति को संतुष्ट नहीं कर पा रही है और उन्हें गुजरने के लिए पर्याप्त नहीं है।

विभिन्न पेंशनभोगी संगठनों ने इस मुद्दे पर अपनी आवाज बुलंद की है और सरकार से न्यूनतम पेंशन को बढ़ाने की मांग की है। उनका कहना है कि न्यूनतम पेंशन राशि को बढ़ाने से पेंशनभोगियों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा और उन्हें अपने जीवन को गुजरने के लिए अधिक संसाधन मिलेगा।

इस विरोध प्रदर्शन के दौरान पेंशनभोगी ने अपनी मांगों को लेकर सरकार से मुलाकात करने की भी मांग की है। उन्होंने अपने आरोपों को साबित करने के लिए अपनी आवाज बुलंद की है और अपने हक की रक्षा करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

सरकार को चाहिए कि वह पेंशनभोगियों की मांगों को गंभीरता से लेकर उनकी समस्याओं का समाधान करे। न्यूनतम पेंशन को बढ़ाने से पेंशनभोगियों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा और उन्हें अपने जीवन को गुजरने के लिए अधिक संसाधन मिलेगा।

इस प्रकार, ईपीएस-95 के तहत न्यूनतम पेंशन को बढ़ाने की मांग पर पेंशनभोगी कर रहे हैं विरोध प्रदर्शन, जो उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है।

Accherishtey
यह भी पढ़ें: दिल्ली के इंद्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशन के पास दो गाड़ियों में टक्कर, 2 की मौत, 2 घायल

Related Articles

Back to top button