बिज़नेस

रेलवे ने शाकाहारी लोगों को दी खुशखबरी, पूरी खबर सुन झूम उठेंगे आप

अगर आप शाकाहारी है तो आपके लिए अच्छी खबर सामने आयी है जहां अब आपको ट्रैन में सफर करते हुए पूरी तरह सात्‍व‍िक खाना म‍िल सकेगा

देश में तकरीबन सभी लोग ट्रैन में सफर करते है जहां उनको एक अच्छे सफर के साथ खाना भी मिलता है। लेकिन बहुत से लोग जो शाकाहारी होते है उनको बाहर का खाना ज्यादा पसंद नहीं आता है, इसलिए IRCTC एक अच्छी खबर लायी है जहां शाकाहारी लोगों को पूरी तरह सात्‍व‍िक खाना म‍िल सकेगा।

बता दें कि अगर आप शाकाहारी है तो आपके लिए अच्छी खबर सामने आयी है जहां अब आपको पूरी तरह सात्‍व‍िक खाना म‍िल सकेगा। यह सुविधा आपको IRCTC द्वारा दी जा रही है जो आपको इस्‍कॉन मंद‍िर के रेस्‍टोरेंट गोव‍िंदा (Govinda Restorent) से खाना मंगाकर मिलेगी।

इसके लिए इस्‍कॉन और आईआरसीटीसी के बीच हुए एग्रीमेंट के तहत पहले चरण में द‍िल्‍ली के हजर‍त न‍िजामुद्दीन स्‍टेशन से यह सुव‍िधा शुरू हुई है। साथ ही इसके बाद अगर लोगों का रिस्पांस अच्छा रहा तो इस सुव‍िधा को देश के दूसरे स्‍टेशनों पर भी शुरू क‍िया जाएगा जिससे सात्‍व‍िक खाना खाने वालों को इसका फायदा होगा।

पेंट्री के भोजन पर शक करते हैं लोग

अक्सर देखा जाता है कि शाकाहारी लोगों को भोजन को लेकर परेशानी होती है क्योकि उन में से कई यात्री प्‍याज और लहसुन भी नहीं खाते जो ज्यादातर पेंट्री पर नहीं मिल पाता। इसी लिए अब यह कदम उठाया गया है जिससे यात्र‍ियों को परेशानी नहीं होगी और वह सात्‍व‍िक खाना गोव‍िंदा रेस्‍टोरेंट से मंगाकर खा सकते हैं।

कैसे उठाए सर्व‍िस का फायदा

अगर आप शाकाहारी है तो आप इस सुविधा का फायदा उठा सकते है बस आपको IRCTC ई-कैटर‍िंग वेबसाइट या फूड ऑन ट्रैक एप पर जाना है और खाना बुक करना है। याद रखे इससे आपको ट्रेन छूटने से कम से कम दो घंटे पहले पीएनआर नंबर (PNR Number) के साथ ऑर्डर करना होगा। इसके बाद सात्‍व‍िक भोजन आपकी सीट पर पहुंच जाएगा।

क्‍या-क्‍या म‍िलेगा खाने में?

  • डीलक्‍स थाली
  • महाराजा थाली
  • पुरानी द‍िल्‍ली की वेज ब‍िरयानी
  • पनीर से बनी ड‍िशेज
  • नूडल्‍स
  • दाल मक्‍खनी समेत कई सात्‍व‍िक ड‍िश शाम‍िल हैं।

Madhavgarh Farms
ये भी पढ़े: दिल्ली में अब नहीं चलेगी पेट्रोल, डीज़ल और CNG की कैब्स, सरकार ने निकाले आदेश

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button