बिज़नेस

Share market: शेयर बाजार हरे निशान में बंद, स्मॉल कैप स्टॉक्स में तेजी

शेयर बाजार ने उठापटक के बाद हरे निशान में बंद होकर नए रिकॉर्ड ऊंचाइयों को छू लिया है।

शेयर बाजार ने उठापटक के बाद हरे निशान में बंद होकर नए रिकॉर्ड ऊंचाइयों को छू लिया है। इस उछाल के पीछे मुख्य भूमिका मिड कैप और स्मॉल कैप स्टॉक्स की तेजी रही है। इस तेजी के पीछे कई कारण हैं, जिनमें से कुछ निम्नलिखित हैं।

पहला कारण है विदेशी निवेशकों की बढ़ती रुचि। विदेशी निवेशकों की ओर से भारतीय शेयर बाजार में निवेश करने की रुचि में वृद्धि हो रही है। इससे मिड कैप और स्मॉल कैप स्टॉक्स की मांग में वृद्धि हो रही है और उनकी कीमतें बढ़ रही हैं।

दूसरा कारण है वित्तीय संस्थानों और निवेशकों की रुचि में बदलाव। वित्तीय संस्थानों और निवेशकों की दिशा में बदलाव के कारण वे मिड कैप और स्मॉल कैप स्टॉक्स में निवेश कर रहे हैं। इससे उनकी मांग में वृद्धि हो रही है और उनकी कीमतें बढ़ रही हैं।

तीसरा कारण है आर्थिक संकट से बाजार की उम्मीदों का सुधारना। उठापटक के बाद बाजार में दिखाई देने वाली तेजी इसी उम्मीद का परिणाम है। बाजार में इस तेजी के बाद निवेशकों की आत्मविश्वास बढ़ गया है और वे अधिक से अधिक निवेश करने को तैयार हैं।

इस तेजी के बावजूद, बाजार में निवेश करने से पहले निवेशकों को सावधानी बरतनी चाहिए। बाजार में तेजी के बावजूद वोलेटेलिटी की स्तिथि बनी रहती है और इससे नुकसान का खतरा भी बना रहता है।

समाप्ति में, उठापटक के बाद हरे निशान में बंद हुआ शेयर बाजार ने मिड कैप और स्मॉल कैप स्टॉक्स में तेजी को देखते हुए निवेशकों को नई उम्मीदें दी हैं। इस तेजी के बीच निवेशकों को सावधानी बरतनी चाहिए और वे अपने निवेश के फैसले को सोच-समझकर लें।

Accherishtey
यह भी पढ़ें: दिल्ली के इंद्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशन के पास दो गाड़ियों में टक्कर, 2 की मौत, 2 घायल

Related Articles

Back to top button