बिज़नेस

UPI time limit: यूपीआई का एक नया टाइम लिमिट, अधिक सुरक्षित बनाने के लिए प्रयासरत

साइबर फ्रॉड से लोगों को बचाने के लिए एक नई कवायद की घोषणा की है।

कुछ ही दिन पहले, यूनिवर्सल पेमेंट्स इंटरनेशनल (यूपीआई) ने साइबर फ्रॉड से लोगों को बचाने के लिए एक नई कवायद की घोषणा की है। इस कवायद के तहत, यूपीआई ने एक नया टाइम लिमिट लगाने की योजना बनाई है, जिससे साइबर फ्रॉड से लोगों को बचाया जा सके।

यूपीआई के इस कदम का मुख्य उद्देश्य है लोगों को ऑनलाइन लेन-देन करते समय सुरक्षित रखना। इसके लिए यूपीआई ने नए टाइम लिमिट को लागू करने की योजना बनाई है, जिससे लोगों को अपने लेन-देन की सुरक्षा के लिए और भी अधिक सुरक्षित महसूस होगा।

इस कवायद के तहत, यूपीआई ने तय किया है कि ऑनलाइन लेन-देन के दौरान एक निश्चित समय सीमा लागू की जाएगी। इस समय सीमा के अंदर ही लेन-देन की प्रक्रिया पूरी की जाएगी, और इसके बाद लेन-देन की प्रक्रिया को पूरा करने के लिए अगले समय सीमा तक इंतजार करना होगा। इससे यह सुनिश्चित होगा कि किसी भी ऑनलाइन लेन-देन की प्रक्रिया में गड़बड़ी नहीं होती और लोगों का पैसा सुरक्षित रहता है।

यूपीआई के इस कदम से लोगों को साइबर फ्रॉड से बचाने में मदद मिलेगी और वे अपने ऑनलाइन लेन-देन को और भी भरोसेमंद महसूस करेंगे। इसके साथ ही, यह भी सुनिश्चित करेगा कि लोगों का विश्वास बढ़ेगा और वे ऑनलाइन लेन-देन का उपयोग अधिक से अधिक करेंगे।

इस नई कवायद के बारे में यूपीआई के प्रमुख ने कहा कि यह एक महत्वपूर्ण कदम है जो लोगों को साइबर फ्रॉड से बचाने में मदद करेगा। वे यह भी कहा कि यूपीआई ने इस कवायद को लागू करने के लिए सभी आवश्यक प्रक्रियाएँ पूरी की हैं और लोगों को इसके माध्यम से और भी अधिक सुरक्षित बनाने के लिए प्रयासरत हैं।

इस नई कवायद के बारे में जानकारी देते हुए, यूपीआई ने बताया कि वे लोगों को इसके बारे में जागरूक करेंगे और उन्हें इसके फायदे के बारे में बताएंगे। इसके साथ ही, वे लोगों से अपील कर रहे हैं कि वे भी इस कवायद का पालन करें और ऑनलाइन लेन-देन करते समय सावधानी बरतें।

Accherishtey
यह भी पढ़ें: दिल्ली के इंद्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशन के पास दो गाड़ियों में टक्कर, 2 की मौत, 2 घायल

Related Articles

Back to top button