बिज़नेस

1 जुलाई से किन Single Use Plastic पर लगेगा बैन? जानिए कौन से है वो प्लास्टिक

1 जुलाई से सिंगल यूज़ प्लास्टिक की चीज़ो पर बैन लगा दिया जायेगा, लेकिन इस योजना से बहुत से कारोबारों पर भी फरक पड़ने वला है

भारत में प्रदूषण से लड़ने के लिए सरकार बहुत से कदम उठा रही है जिससे जल्द ही लोगों को साफ़ वातावरण मिल सके। इसी के चलते सरकार ने फैसला लिया था कि 1 जुलाई से सिंगल यूज़ प्लास्टिक की चीज़ो पर बैन लगा दिया जायेगा। लेकिन इस योजना से बहुत से कारोबारों पर भी फरक पड़ने वला है। जानिए पूरी खबर

बता दें कि कल यानि 1 जुलाई से Single Use Plastic पर बैन लगने वाला है जिसका फैसला सरकार द्वारा लिया गया है। लेकिन सरकार के इस फैसले की वजह से पैक्ड जूस, सॉफ्ट ड्रिंक्स और डेयरी प्रोडक्ट बनाने और बेचने वाली कंपनियों को तगड़ा झटका दिया है। साथ ही बेवरेज कंपनियां प्लास्टिक स्ट्रॉ के साथ अपने प्रोडक्ट को नहीं बेच पाएंगी। इसी चिंता में कंपनिया अमूल, मदर डेयरी और डाबर ने सर्कार को निवेदन भी किया है की इसके लिए थोड़ा और समय मिल सके लेकिन अब कल से इसकी शुरुआत होने वाली है।

ये वस्तुए हुई बैन

वस्तुए जो 1 जुलाई से बैन होगी वो है प्लास्टिक के साथ ईयर-बड, गुब्बारों के लिए प्लास्टिक स्टिक, प्लास्टिक के झंडे, कैंडी स्टिक, आइसक्रीम स्टिक, सजावट के लिए पॉलीस्टाइनिन (थर्मोकोल) कप, गिलास, कांटे, चम्मच जैसी वस्तुओं के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लग जाएगा।

स्ट्रॉ निर्भर बड़ा कारोबार

जाने माने ब्रांड Amul ने इस पर चिंता जताते हुए सरकार को पत्र लिखा और प्लास्टिक स्ट्रॉ पर लगने वाले प्रतिबंध को टालने का अनुरोध किया था। जिसमे उन्होंने बताया की सरकार के इस फैसले से दुनिया के सबसे बड़े दूध उत्पादक (Milk Producer) देश के किसानों और दूध की खपत पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। साथ ही बहुत सी कंपनियों पेय पदार्थ प्लास्टिक स्ट्रॉ के साथ ग्राहकों तक पहुंचते हैं लेकिन अब उनके लिए परेशानी हो सकती है।

हालाँकि, कंपनियों ने इसको देखते हुए पेपर स्ट्रा का इंपोर्ट शुरू कर चुकी हैं मगर दिक्कत यह है कि प्लास्टिक स्ट्रॉ के मुकाबले पेपर स्ट्रॉ की लागत अधिक पड़ रही है जो एक चिंता का विषय है। लेकिन कुछ समय पहले मदर डेयरी फ्रूट एंड वेजिटेबल प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक मनीष बंदलिश ने कुछ समय पहले कहा था कि हम पेपर स्ट्रॉ का आयात करेंगे। लेकिन ये मौजूदा प्लास्टिक स्ट्रॉ की तुलना में चार गुना अधिक महंगे हैं।

Madhavgarh Farms
यह भी पढ़े: इस जगह बच्चों का खाता खुलवाने पर हर साल मिलेंगे 25,000 रुपये, तुरंत उठाएं फायदा

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button