कोरोना वायरसदेश

भारत का कोरोना पर तीसरा वार: 10 अप्रैल से लगेगा 18+ को बूस्टर डोज

10 अप्रैल यानी रविवार से देश में सभी 18 वर्ष या 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को बूस्टर डोज लगेगी। जाने कहा से लगवा सकते हैं बूस्टर डोज?

देश के कई राज्यों में कोरोना में बढ़ोतरी के कारण केंद्र सरकार ने दिल्ली समेत 5 राज्यों को सतर्कता बरतने के आदेश दिए है। बता दें कि दिल्ली, हरियाणा, महाराष्ट्र, केरल समेत मिजोरम में कोरोना के नए मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने इन राज्यों में बढ़ते मामलों पर चिंता जाहिर की। साथ ही साथ राजेश भूषण ने दिल्ली समेत 5 राज्यों को पत्र लिखा है। इस पत्र में कहा गया है कि बढ़ते कोरोना मामलों पर निगरानी रखी जाए। वही जरूरत पड़े तो करवाई भी की जाए।

10 अप्रैल से 18+ को लगेगी बूस्टर डोज:-

10 अप्रैल यानी रविवार से देश में सभी 18 वर्ष या 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को बूस्टर डोज लगेगी। सरकार ने इस बात की सूचना शुक्रवार को जारी की थी। बता दें कि बूस्टर डोज प्राइवेट वैक्सीनेशन सेंटर्स पर उपलब्ध होगी। वही इस वैक्सीन के लिए योग्य इंसान वहीं है जिनकी दूसरी डोज को 9 महीने या उससे अधिक समय हो गया हो। साथ ही साथ सरकारी केंद्रों पर पहली और दूसरी डोज के साथ हेल्थकेयर और 60 से ज्यादा उम्र वालों के लिए बूस्टर डोज फ्री जारी रहेगा।

भारत में वैक्सीनेशन का आंकड़ा कितना तेज है?

बता दें कि भारत में 15 से अधिक उम्र वालों में से 96% लोगों को पहला डोज लग चूका है। वहीं 83% लोगों को दोनों डोज लग चूका है। साथ ही साथ हेल्थकेयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60+ में से 2.4 करोड़ लोगों को बूस्टर डोज भी लग गया है।

क्यों जरूरी हैं बूस्टर डोज?

यह कहना गलत नहीं होगा कि पहले और दूसरे डोज के कारण कोरोना से बचाव हो रहा है। हलाकि समय के साथ कोरोना के नए वैरिएंट को हराने के लिए बूस्टर डोज की आवश्यकता है।Tax Partner

ये भी पढ़े: कोरोना के नए वैरिएंट XE ने बढ़ाई चिंता, ओमिक्रॉन से 10 गुना ज्यादा संक्रामक

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button