कोरोना वायरसदेशविश्व

क्या चीन के बाद अब भारत में बढ़ने वाला है कोरोना का कहर? जानिए पूरी खबर

चीन में जो केस में बढ़ोतरी देखि जा रही है वो पुराने वैरिएंट से ही केस बढ़ रहे हैं, साथ ही भारत में 220 करोड़ वैक्सीन के डोज लगाए जा चुके हैं

चीन में कोरोना का केहर अभी भी वहा के लोगों के लिए परेशानी बढ़कर फेल रहा है क्योकि अगले तीन महीने के अंदर चीन के 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को कोरोना से संक्रमित होने का खतरा मंडरा रहा है। जिसमे से अभी तक दस लाख से ज्यादा लोगों की मौत भी हो गई है। साथ ही एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया के बाकी देशों पर भी इसका बुरा असर पड़ने कि संभावना जताई जा रही है जहां दुनिया के 10 प्रतिशत से ज्यादा लोग अगले तीन महीने के अंदर संक्रमण की चपेट में आ सकते हैं।

बता दें कि इन रिपोर्ट्स के अनुसार पूरे दुनियाभर में हलचल बढ़ गयी है जहां भारत कि बात करे तो यहा लोगों के बीच कई तरह की चर्चाएं शुरू हो गईं हैं। लेकिन इस बारे में इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (ICMR) गोरखपुर के रीजनल डायरेक्टर डॉ. रजनीकांत से बातचीत हुई और उन्होंने बताया कि नहीं, अभी कोरोना का कोई नया वैरिएंट सामने नहीं आया है।

ये जो केस में बढ़ोतरी देखि जा रही है चीन में वो पुराने वैरिएंट से ही केस बढ़ रहे हैं। साथ ही भारत में 220 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन के डोज लगाए जा चुके हैं और 100 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीन का पहला डोज लग चुका है। इनमें भी 95 करोड़ से ज्यादा लोग ऐसे हैं जिन्होंने वैक्सीन का दोनों डोज लग चुका है।

देश में पहले से ही आने वाले वेरिएंट से लड़ने के लिए 22 करोड़ से ज्यादा लोग ऐसे हैं, जिन्हें बूस्टर डोज भी लग चुका है। ऐसे में फिलहाल भारत में कोरोना की नई लहर आने की आशंका नहीं जताई है। हालांकि, इसके बावजूद भी सरकार द्वारा सारी तैयारियां कि जा रही है जिससे अगर आगे चलकर स्थिति खराब होती है तो हम उससे निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं क्योकि देश में पर्याप्त संख्या में कोरोना की जांच के लिए लैब्स हैं।

क्या चीन में बढ़ते कोरोना से डरने की है जरूरत ?

रिपोर्ट्स के अनुसार अभी इसमें भारत को डरने के लिए कोई भी संकेत नहीं दिए है क्योकि इससे बचें एक लिए ऐहतियात रखना जरूरी हैं। ऐसे में अगर किसी में कोरोना का लक्षण दिखता है जैसे खांसी, जुखाम या बुखार होता है तो उन्हें ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है। दूसरी तरफ ऐसे लोग मास्क पहनें और उन लोगों से दूरी बनाएं। जब चीज़े ज्यादा बढ़ जाये तो कोरोना की जांच कराएं और डॉक्टर की सलाह लें। लेकिन इसी के साथ ये नहीं कि हर कोई पैनिक सिचुएशन में आ जाए क्योकि अभी हमारे यहां हालात काफी अच्छे हैं।

Accherishteyये भी पढ़े: गाड़ियों के लिए फिर से बदला गया है नंबर प्लेट सिस्टम, लगाई जाएगी Toll Plate

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button