कोरोना वायरसदिल्ली

दिल्ली में वैक्सीन की भारी कमी, बंद हुए सेकड़ो टीकाकरण केंद्र।

राजधानी में वैक्सीन की तंगी चलते देख सरकार ने किए सेकड़ो टीकाकरण केंद्र बंद। कोविशील्ड वैक्सीन का स्टॉक हुआ खत्म

राजधानी में वैक्सीन की कमी होने के कारण टीकाकरण में आई कमी। बीते मंगलवार की तुलना में बुधवार को 50 फीसदी कम टीकाकरण हुआ है। 13 जुलाई मंगलवार को वैक्सीन की 1.29 लाख डोज़ दी गई थी। जबकि बुधवार शाम 6 बजे तक सिर्फ 64 हज़ार डोज़ ही दी गई। वैक्सीन की कमी होने के कारण स्वास्थ्य विभाग ने पहली बार कोवैक्सीन लेने वालों के लिए सिर्फ 20 फीसदी डोज़ का प्रयोग करने के लिए इजाज़त दी है। विभाग ने साथ में यह भी बताया है कि पिछले दिन कोवैक्सीन की 30530 डोज़ उपलब्ध कराई गई है।

मंगलवार को दिल्ली में कोवैक्सीन की 2.46 लाख डोज़ उपलब्ध थी, जबकि कोविशील्ड की सिर्फ 63840 डोज़ उपलब्ध थी। अभी तक दिल्ली में केवल 90.98  लाख लोगो को ही वैक्सीन की खुराक दी गई है। गौरतलब है कि इनमें से केवल 21.31 लाख लोगों को ही वैक्सीन की दोनों डोज़ दी गई है। फिलहाल, वैक्सीन की तंगी होने के कारण 500 से ज़्यादा वैक्सिनेशन सेंटरों को बंद कर दिया गया है। 

राजधानी में फ़िलहाल कोविशील्ड की डोज़ उपलब्ध नहीं है। कोवैक्सीन की डोज़ दिल्ली में उपलब्ध है लेकिन इसकी आपूर्ति को लेकर काफी लापरवाही देखी गई है। इसी के कारण सरकार ने वैक्सीन की पहली डोज़ लेने वाले लोगो को, कोवैक्सीन के कुल स्टोरेज में से सिर्फ 20 फीसदी ही इस्तेमाल करने की अनुमति दी है। बाकी 80 फीसदी उन लोगो को दी जाएगी जिनको दूसरी डोज़ लगना ज़रूरी है।

Aadhya technology

सरकार का कहना है कि वैक्सीन की तंगी होने के कारण जितने भी केंद्र बंद कराए गए है उनको वैक्सीन के स्टॉक आने के बाद फिर से खोल दिया जाएगा। दिल्ली सरकार टीकाकरण करने के लिए पूरी तरीके से योग्य है और उसको 3 से 4 लाख वैक्सीन प्रतिदिन चाहिए। वैक्सीन की तंगी ही बार-बार टीकाकरण केंद्रों को बंद करने का एकमात्र कारण है।

ये भी पढ़े: दिल्ली में कोरोना से ज़्यादा है ब्लैक फंगस का क़हर, 952 पर पहुंची एक्टिव केस की संख्या

Rahil Sayed

राहिल सय्यद तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे हैं। इन्होंने दिल्ली से सम्बंधित बहुत सी महत्वपूर्ण घटनाओं और समाचारों को अपने लेखन में प्रकाशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button