अपराधदिल्ली

बहन पर किया कमेंट पास, तो उतार दिया मौत के घाट!

170 CCTV की जांच और 238 लोगों से पूछताछ कर पुलिस ने मास्टरमाइंड सचिन संग 3 नाबालिगों को लिया हिरासत में। 30 जून को हुई थी हत्या, पार्क में मिला था मृतक।

मंगोलपुरी इलाके में ब्लाइंड मर्डर के मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। इसके साथ ही इस मामले में तीन नाबालिगों को भी हिरासत में लिया है। डीसीपी परमिंदर सिंह ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि 30 जून को जब कांस्टेबल सुनील इस इलाके में पेट्रोलिंग पर थे, तो उसी दौरान जे ब्लॉक पार्क में एक लड़के को बेहोशी की हालत में देखा। स्थानीय लोगों की मदद से बेहोश व्यक्ति को वहां से उसे उठाकर बाहर लाया गया। तुरन्त उसे नजदीक के हॉस्पिटल ले जाया गया, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस मामले में हत्या का मामला मंगोलपुरी थाने में दर्ज किया गया था। मृतक की पहचान जे. ब्लॉक में रहने वाले 17 साल के एक लड़के के रूप में हुई। मामले को सुलझाने के लिए एसीपी विरेंद्र कादयान की देखरेख में एसएचओ मुकेश कुमार, इंस्पेक्टर राजीव, हेड कॉन्स्टेबल विजय, कॉन्स्टेबल सुनील, नवीन, प्रदीप और अमित की टीम बनाई गई। इस टीम ने करीब 170 सीसीटीवी फुटेज की जांच की और 238 लोगों से एक-एक करके पूछताछ की। आखिरकार पुलिस की मेहनत रंग लाई और इसमें मुख्य आरोपी सचिन उर्फ राजा की पहचान की गई। Insta loan Service पुलिस टीम ने इसके बारे में पता लगाया और एक सूचना मिलने पर राजा उर्फ सचिन को दबोच लिया। फिर उसके तीन नाबालिग साथियों को भी हिरासत में ले लिया। वारदात में इस्तेमाल किए गए दो खून से सने चाकू भी पुलिस ने बरामद किए हैं। पुलिस के अनुसार राजा अभी 18 साल 2 महीने का हुआ है। यह फिलहाल जूता फैक्ट्री में काम करता था। उसने पुलिस को बताया कि मरने वाले नाबालिक युवक ने इसकी चचेरी बहन पर कमेंट पास किया था। जिसकी जानकारी जब उसे मिली, तो उसने सबक सिखाने के लिए अपने तीन नाबालिक साथियों को बुलाया और फिर 30 जून को उस पर जानलेवा हमला कर दिया। जिसमे उसकी मौत हो गई। पुलिस अब आगे की कार्यवाही कर रही है।  

Vasundhra Tyagi

वसुंधरा त्यागी कंटेंट मार्केटिंग और राइटिंग की फील्ड में करीब 2 साल से कार्यरत हैं। वर्तमान में तेज़ तर्रार मीडिया में बतौर राइटर और एडिटर अपना रोल निभा रही हैं। इन्होंने दिल्ली से जुड़े कई मुद्दों और आम आदमी की समस्याओं को अपने लेख में प्रकाशित कर सम्बंधित अधिकारियों और विभागों का ध्यान इन समस्याओं की और केंद्रित करवाया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button