अपराधट्रेंडिंगदिल्ली

बड़े रैकेट का भंडाफोड़: 2500 करोड़ के ड्रग्स के साथ पकड़े गए 4 आरोपी।

दिल्ली पुलिस के हाथ लगी बड़ी कामयाबी। 2500 करोड़ की 350 किलो की हेरोइन के साथ पकड़े गए 4 आरोपी। गिरफ्तार किये गए आरोपियों से पूछताछ है जारी।

दिल्ली पुलिस के हाथ आयी बड़ी कामयाबी। दिल्ली पुलिस ने 350 किलो हेरोइन बरामत की है जिसकी कीमत 2500 करोड़ है। इतना ही नहीं, पुलिस ने इस मामले में चार आरोपियों को भी हिरासत में लिया है जिनमे से 3 आरोपियों को हरियाणा और एक आरोपी को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किये गए आरोपियों से पूछताछ शुरू कर दी गयी है।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने आजतक का सबसे बड़ा गुट पकड़ा है। यह अबतक का सबसे बड़ा ड्रग्स व्यवसाय संघ का खुलासा है। बताया जा रहा है की यह मामला नार्को टेररिज्म से जुड़ा हो सकता है। इस ड्रग व्यवसाय संघ के तार पकिस्तान से भी जुड़े होने का अंदेशा है। 
Tax Partner

दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल के सीपी नीरज ठाकुर के अनुसार यह ऑपरेशन महीनो से चल रहा था। बताया जा रहा है की इन आरोपियों में से एक अफ़ग़ानिस्तान का नागरिक है। करीब 350 किलो हेरोइन को कंटेनर्स में छुपाकर समंदर के रास्ते मुंबई से दिल्ली लाया गया था जिसे मध्यप्रदेश शिवपुरी के पास एक फैक्ट्री में फाइन क्वालिटी का बनाया जाना था, जिसके बाद यह ड्रग्स पंजाब ले जाया जाना था। आरोपियों ने ड्रग्स छुपाने के लिए फरीदाबाद में किराए का मकान लिया था।

अफ़ग़ानिस्तान में बैठे आरोपी इस ऑपरेशन को ऑपरेट कर रहे थे। पुलिस ने बताया की आरोपी पहले भी ड्रग केस के मामले में गिरफ्तार हो चुके हैं। दो आरोपी फरीदाबाद से गिरफ्तार किये गए हैं जबकि कश्मीर का रहने वाला शख्स राजधानी दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस को पाकिस्तान से भी पैसे आने के सुराग मिले हैं। कश्मीर (अनंतनाग) का रहने वाला आरोपी ड्रग्स के लिए केमिकल मुहैया करवाता था जिससे हेरोइन को प्रोसेस किया जाता था। हालांकि पंजाब के दोनों आरोपियों का काम पंजाब में यह ड्रग सप्लाई करना था। 

ये भी पढ़े: दिल्ली में पंजाब पुलिस की रेड, करोड़ो की हीरोइन हुई बरामद, अफगानियों को किया गिरफ्तार।

Avinash Pandey

अविनाश पांडेय डिजिटल मार्केटिंग और राइटिंग की फील्ड में 3 साल से कार्यरत हैं। फिलहाल तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर डिजिटल मार्केटर और राइटर कार्य कर रहे हैं। इसी के साथ ही चैनल के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स के मैनेजमेंट में भी इनका बड़ा योगदान है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button