देशसाइबर क्राइम

गिफ्ट भेजने का झांसा देकर 500 लोगों से ठगे करोड़ों रुपये, 5 गिरफ्तार

आरोपियों की पहचान इसहाक चुकुमा ओकोरी, साई मैथ्यू, ओफोसू, कमल कुमार और लालरिमावी के रूप में हुई है। पुलिस के मुताबिक, 29 अक्तूबर वाले दिन...

सोशल मीडिया प्लेटफार्म के जरिए लोगों से दोस्ती कर गिफ्ट भेजने का झांसा देकर देशभर में ठगी करने वाले गिरोह का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने तीन विदेशियों सहित पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके करीब 22 खातों को सीज किया है। इन बैंक अकाउंट में लगभग 3.50 लाख रुपये जमा हैं। इसके साथ ही, पुलिस ने आरोपियों के पास से 11 मोबाइल, 2 लैपटॉप, 29 सिम, 1 डोंगल और साथ ही 3 पेन ड्राइव बरामद किए हैं। आरोपी करीब पांच वर्ष में 500 लोगों से लगभग करोड़ों रुपये ठग चुके हैं।

पकडे गए आरोपियों की पहचान इसहाक चुकुमा ओकोरी, साई मैथ्यू, ओफोसू, कमल कुमार और लालरिमावी के रूप में हुई है। पुलिस के मुताबिक, 29 अक्तूबर वाले दिन एक महिला डॉक्टर ने मध्य जिला के साइबर सेल में उनके साथ ठगी होने की शिकायत की। महिला ने यह बताया कि मार्क पीटरसन नामक शख्स ने 29 जून को सोशल मीडिया साइट इंस्टाग्राम पर संपर्क कर अपने आप को अमेरिकी एयरलाइंस में पायलट बताया था। आरोपी ने यह कहा कि वह फिलहाल अभी लंदन में रह रहा है।

इसके बाद आरोपी पीड़ित को वाट्सएप मैसेज भेजने लगा। जुलाई में आरोपी शख्स ने बताया कि वह भारत में घूमने आ रहा है। 25 जुलाई को महिला डॉक्टर को एक कॉल आई जिसमें यह बताया गया कि मार्क पीटरसन मुंबई एयरपोर्ट पर पहुंच गया है। फिर इसके बाद कस्टम ड्यूटी और साथ ही अन्य मदों में आरोपियों ने महिला से कुल 19 लाख रुपये ठग लिए। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच में जुट गई। पुलिस ने जांच के वक्त उन बैंक अकाउंट की जांच की, जिनमें आरोपियों द्वारा शिकायतकर्ता से पैसे जमा करवाए गए थे।

इन अकाउंट से अन्य अकाउंट में पैसे गए थे और साथ ही एटीएम के जरिए जल्द से पैसे निकाल लिए गए थे। तकनीकी जांच करने के दौरान पुलिस ने 15 दिसंबर को दिल्ली के उत्तम नगर से आरोपी कमल कुमार को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने अफ्रीकी आरोपी इसाक चुकुमा ओकोरी, ओफोसू और साथ ही साई मैथ्यू को भी दिल्ली के तिलक नगर से गिरफ्तार कर लिया।

इस मामले में आरोपियों ने यह बताया कि वह सोशल मीडिया पर अलग-अलग नामों से नकली प्रोफाइल बनाते थे। और फिर सोशल मीडिया के जरिए वह लोगों से संपर्क करते थे। फिर लोगों को लाखों रुपये के गिफ्ट और साथ ही डॉलर भेजने का लालच देकर ठगी करते थे। ठगे हुए पैसे आरोपी नाइजीरिया में भेजते थे।

Accherishtey

ये भी पढ़े: हनीट्रैप के जाल में फंसाकर युवक का किया अपहरण, युवती सहित 3 गिरफ्तार

Gagandeep Singh

गगनदीप सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। जहां ये दिल्ली से जुड़ी सारी क्राइम की खबरें निडर होकर अपने लेख से लोगों तक पहुंचाते है

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button