अपराधदिल्ली

Sagar Dhankhad Murder Case: दिल्ली क्राइम ब्रांच ने सुशील कुमार को बनाया मुख्य आरोपी

छत्रसाल स्टेडियम में पहलवानों के बीच हुए झगड़े में हो गयी थी जूनियर पहलवान सागर धनखड की मौत, सुशील कुमार का नाम मुख्य आरोपी के रूप में आया सामने  

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने जूनियर पहलवान की हत्या के मामले में चार्जशीट तैयार कर ली है। सागर धनखड़ हत्याकांड में गिरफ्तार किए गए सभी 12 आरोपियों के नाम इस चार्जशीट में शामिल किए गए हैं। गौरतलब है कि हत्याकांड में दिल्ली क्राइम ब्रांच ने सुशील कुमार को मुख्य आरोपी घोषित किया है। जल्द ही चार्जशीट को कोर्ट में दाखिल किया जाएगा।         

जानकारी के मुताबिक़, कई हज़ार पेज की चार्जशीट में पहलवान सुशील कुमार को, मुख्य आरोपी बनाया गया है। इसके अलावा सागर धनखड़ हत्याकांड में 4 पीड़ित की अलावा छत्रसाल स्टेडियम की सिक्योरिटी गार्ड और मॉडल टाउन में रहने वाले सागर धनखड़ के पड़ोसी और शालीमार बाग़ में रहने वाले कुछ लोगों के समेत करीब 150 लोगों को गवाह बनाया गया है।      

रिपोर्ट के मुताबिक़, दिल्ली पुलिस के पास इलेक्ट्रॉनिक सबूत भी मौजूद है। इसमें सागर और उसके साथियों का विडिओ है। यह वीडियो आरोपी प्रिंस से बरामद किया गया है। इसके अलावा आरोपियों के आने और जाने की CCTV कैमरा फुटेज भी मौजूद हैं जिन्हें एक महवपूर्ण सबूत के तौर पर देखा जा रहा है। इन सभी सबूतों से एक बात तो साफ़ है कि सभी आरोपी वारदात के समय वह मौजूद थे और उनकी उस समय की मोबाइल लोकेशन भी घटनास्थल की ही है। 

सुशील कुमार सहित कुल 12 लोगों को किया आरोपी घोषित 

दिल्ली क्राइम ब्रांच ने सागर धनखड़ हत्याकांड मामले में गिरफ्तार किए गए सभी 12 लोगों को आरोपी घोषित किया है। इसके आलावा पुरे मामले में कुल 18 आरोपियों की पहचान की गई है। इन 18 आरोपियों में से 12 पुलिस की हिरासत में हैं जबकि 6 फरार हैं। हालांकि पुलिस को आरोपियों के मोबाइल फ़ोन की फॉरेंसिक रिपोर्ट अभी भी नहीं मिली है। इसपर दिल्ली पुलिस ने एफएसएल को पत्र लिख कर सभी मोबाइलों की फोरेंसिक रिपोर्ट देने को कहा है। 

Tax Partner

काफी समय बाद पकड़े गए थे सुशील कुमार 

4 मई को दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में पहलवानों के बीच हुए झगड़े में सागर धनखड़ नामक पहलवान के घायल होने की खबर सामने आई थी। अस्पताल में चल रहे इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी। पूरी घटना में सुशील कुमार का नाम मुख्य आरोपी के तौर पर सामने आया था। अपना नाम सामने आने पर सुशील कुमार कई दिनों तक फरार रहे थे। 18 दिनों तक करीब 7 राज्यों में घूमने के बाद पुलिस ने सुशील कुमार को हिरासत में लिया था। गौरतलब है कि सुशील कुमार के वकीलों ने सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया, जबकि सागर धनखड़ के परिवार ने उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की मांग की है।    

ये भी पढ़े:- नाईट पेट्रोलिंग के दौरान दिल्ली पुलिस ने काटे हज़ारो गाड़ियों के चालान

Vasundhra Tyagi

वसुंधरा त्यागी कंटेंट मार्केटिंग और राइटिंग की फील्ड में करीब 2 साल से कार्यरत हैं। वर्तमान में तेज़ तर्रार मीडिया में बतौर राइटर और एडिटर अपना रोल निभा रही हैं। इन्होंने दिल्ली से जुड़े कई मुद्दों और आम आदमी की समस्याओं को अपने लेख में प्रकाशित कर सम्बंधित अधिकारियों और विभागों का ध्यान इन समस्याओं की और केंद्रित करवाया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button