अपराधदिल्ली एनसीआर

मासूम का अपहरण कर मांगे 10 लाख रुपये, फिरौती न मिलने पर कर दी बच्चे की हत्या

24 अगस्त को अज्ञात लोगों द्वारा फोन पर बच्चे को लौटाने के लिए 10 लाख रुपये की फिरौती मांगी थी और उनके परिजन इस बात को लेकर काफी घबरा गए

हाल ही में एक खबर पलवल से सामने आयी है जहां 10 लाख रुपये की फिरौती न मिलने पर हसनपुर के गांव अजीजाबाद निवासी के साहिल के 7 वर्षीय बेटे समीर की हत्या कर दी गई। वही उसके हत्या के बाद अपराधी शव को गांव के ही पास स्थित धान के खेत में सीधा फेंक गए।

बता दें कि पुलिस द्वारा उसके शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला नागरिक अस्पताल भी भिजवा दिया गया तथा और मृतक बच्चे के दादा जाकिर के बयान पर उन अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या मामला दर्ज कर लिया गया है। हालांकि 23 अगस्त को पुलिस द्वारा समीर के लापता होने का मामला भी दर्ज किया था।

रिपोर्ट्स के चलते शुक्रवार सुबह पुलिस को सूचना मिली थी कि गांव अजीजाबाद के पास खेत में ही एक बच्चे की लाश मिली है। ऐसे में सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और 23 अगस्त को थाने में बच्चे के लापता होने की दर्ज शिकायत के आधार पर ही उसके परिजनों को बुला लिया गया था। ऐसे में बच्चे की पहचान कर पुलिस ने शव को पलवल जिला नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए सीधा भिजवा दिया। साथ ही पुलिस ने बच्चे के दादा जाकिर से शिकायत लेकर अज्ञात लोगों के खिलाफ अब सीधा अपहरण तथा हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

आगे रिपोर्ट्स से सामने आया कि 24 अगस्त को अज्ञात लोगों द्वारा फोन पर बच्चे को लौटाने के लिए 10 लाख रुपये की फिरौती मांगी थी और पुलिस के अनुसार उनके परिजन इस बात को लेकर काफी घबरा गए और वो तुरंत ही पुलिस के पास पहुंचे जहां पुलिस ने उस नंबर पर तुरंत कार्रवाई शुरू की।

हालाँकि, उस मोबाइल नंबर की लोकेशन राजस्थान के कामा की पाई गई है और थाना प्रभारी द्वारा बताया कि पुलिस टीम जांच के लिए राजस्थान पहुंची है और वहां स्थानीय पुलिस की मदद लेकर जांच के दौरान ही लोकेशन बदलकर दूसरे स्थान की हो चुकी है जिसके चलते आरोपी पुलिस के हाथ नहीं लगे।

Accherishtey

ये भी पढ़े: अब दिल्ली में मिलेगा सबको को खुद का आशियाना, DDA ने जारी की 5000 फ्लैट की स्कीम

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button