अपराधदिल्ली

मां को मारकर बेटे ने लिखा 77 पेज का सुसाइड नोट, ये कहानी पढ़ थर्रा उठेंगे

दिल्ली के रोहिणी इलाके में रविवार रात एक युवक ने अपनी ही मां को मर कर खुदकुशी कर ली। अपनी मौत के बाद मां को कष्ट न हो इसलिए युवक ने

देश की राजधानी दिल्ली के रोहिणी इलाके में रविवार रात एक युवक ने अपनी ही मां को मर कर खुदकुशी कर ली। अपनी मौत के बाद मां को कष्ट न हो इसलिए युवक ने पहले अपनी माँ की हत्या की और फिर चार दिन बाद उसने खुद के गले को इलेक्ट्रिक कटर से रेत कर खुदकुशी कर ली। उसके पास से 77 पन्ने के सुसाइड नोट में उसने अपनी सारी बातों का जिक्र किया है और सुसाइड नोट में आध्यात्मिक, प्यार और बीमारी की सभी बातें लिखी है। उसने कहा कि वह पिछले दो साल से मरना चाह रहा था, लेकिन मरने से पहले अपनी मां को उस दुख से आजाद करना चाहता था। सुसाइड नोट में उसने लिखा है कि गुरुवार को उसने बाइक को लॉक करने वाले चेन से मां का गला घोंटा और फिर उसके गोद में सिर रखकर काफी देर तक रोता रहा। फिर उसने अपनी मां का इलेक्ट्रिक कटर से गला रेत दिया। उसके बाद उसने गंगाजल से मां के शव को धोया।

उसने उस चिठ्ठी कि मां की हत्या करने के बाद वह शव के पास बैठकर भगवत गीता का 18वां अध्याय का पाठ किया। उसके बाद भगवत गीता को मां के शव पर रख दिया फिर उसने खुदकुशी करने से पहले नोट को पूरा करना लगा। साथ ही उसने लिखा है कि यह सब उसने गूगल, टीवी सीरियल देखकर इसकी साजिश रची। सुसाइड नोट में वह एक तरफ तो मां से प्यार करने की बात लिखता है, वहीं दूसरी तरफ खुद को एक नाकाम शख्स बता रहा था। वह अपनी बीमारी का भी जिक्र किया है।

नोट देखकर पुलिस ने यह जताया है कि वारदात को अंजाम देने वाला शख्स मानसिक रूप से तनाव में था। इस वजह से उसने यह कदम उठाया होगा। गौरतलब है कि रविवार रात रोहिणी के पॉकेट 18 सेक्टर 24 में एक तीन मंजिला इमारत में मां मिथलेश की हत्या करने के बाद बेटे सोनू के खुदकुशी कर ली थी। मां बेटे पहली मंजिल पर रहते थे। उपर की दो मंजिल खाली थे। भूतल पर एक दुकान है, जो कोरोना महामारी के बाद खाली हो गया था। महिला के पति का कुछ वर्ष पहले ही मोत हो गयी थी।

कैसे हुआ मामले का खुलासा

रोहिणी सेक्टर 24 आरडब्ल्यूए की अध्यक्ष कोमल सेठ ने कहा कि रविवार को सोनू ने अपनी मां की सहेली को फोन किया। और उन्हें बताया कि गुरुवार को अपनी माँ की हत्या कर दी है और अब वह खुदकुशी करने जा रहा है। मां की सहेली यह बात सुनकर सन्न रह गईं। उसने तुरंत कोमल सेठ को फोन कर इस बात की जानकारी दी। कोमल सेठ अन्य महिलाओं के साथ सोनू के घर पहुंचीं। घर के आसपास बदबू आ रही थी। उन लोगों ने घटना की जानकारी बुध विहार थाना पुलिस को दी।

बाथरूम में 50 वर्षीय मिथिलेश का शव मिला। शव सड़ी गली हालत में था। उसके गर्दन को कटर से रेता गया था। जहां सोनू का शव था वहां से पुलिस को दो मोबाइल और बिजली के स्विच से जुड़ा इलेक्ट्रिक कटर पड़ा मिला। पास ही एक रजिस्टर मिला, जिसमें उसने 77 पन्ने का सुसाइड नोट लिखा था। उसने गुरुवार को मां की हत्या करने के बाद चार दिन उनके शव के साथ कैसे गुजारे यह भी सुसाइड नोट में लिखा है। आखिर में दोनों अंगूठे के निशान भी लगाए हैं।

Insta loan services

यह भी पढ़े: वाहन चालाने वालों के लिए खुशखबरी, Toll Plaza को बंद करने का एलान

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button