अपराधदिल्लीदिल्ली एनसीआरदेश

हिमाचल से गांजा लाकर दिल्ली में करते थे सप्लाई, तीन तस्कर गिरफ्तार

अपराध शाखा के पुलिस अधिकारियों के अनुसार एसीपी अरविंद कुमार की टीम में तैनात ASI सचिन सिंह को दो अगस्त को सूचना मिली थी कि गांजे के साथ...

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो हिमाचल प्रदेश से गांजा लाकर दिल्ली-एनसीआर में सप्लाई करता था। पुलिस ने इस गिरोह के सरगना समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से बढ़िया क्वालिटी का 1.1 किलोग्राम गांजा बरामद किया गया है।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में बरामद गांजे की कीमत करीब एक करोड़ रुपये बताई जा रही है। अपराध शाखा के पुलिस अधिकारियों के अनुसार एसीपी अरविंद कुमार की टीम में तैनात ASI सचिन सिंह को दो अगस्त को सूचना मिली थी कि इकराम संगठित तरीके से मादक पदार्थों की तस्करी करने वाला गिरोह चला रहा है। वह हिमाचल प्रदेश से गांजा मंगाता है।

पुलिस टीम ने मुकरबा चौक, बाहरी रिंग रोड पर घेराबंदी कर ली थी। यहां पर गांजे की खेप लेकर आए आरोपी अशोक कुमार उर्फ लाला (59) को गिरफ्तार कर लिया। इसके हाथ में एक सूटकेश था। सूटकेश से 1.100 किलो गांजा बरामद किया गया। उसने बताया कि वह इकराम के लिए काम करता है। अशोक ने पुलिस की उपस्थिति में इकराम को फोन किया और गुड्डू को गांजे की खेप देने की बात कही।

पुलिस टीम अशोक के साथ वेलकम पुलिया पहुंची और आरोपी गुड्डू (40) को गिरफ्तार कर लिया। गुड्डू के घर से 85 हजार रुपये, पैकिंग मेरेरियल समेत अन्य सामान बरामद किया गया। इनसे पूछताछ के बाद पुलिस टीम भरतपुर, राजस्थान रेलवे स्टेशन पहुंची और आरोपी इकराम को गिरफ्तार कर लिया।

उसने पूछताछ में यह बताया कि वह बहुत समय से संगठित तरीके से गिरोह को चला रहा था। उसके गिरोह में काफी लोग शामिल हैं और सभी को अलग-अलग काम सौंपा हुआ है। अंबेडकर चौपाल, गांव बहादुरगढ़, जिला हापुड़, गुढमुक्तेश्वर यूपी निवासी मोहम्मद इकराम के पिता की मृत्यु उस समय हो गई थी, जब वह 13 वर्ष का था। वर्ष 2005 में ये गलत संगत में पड़ गया था और नशा लेने का आदि हो गया। कपड़े के व्यवसाय में भारी घाटा होने के कारण इसने गांजे की सप्लाई करना शुरू कर दिया।

Madhavgarh Farms

यह भी पढ़े: गोविंदपुरी थाना पुलिस ने जीजा की हत्या करने वाले साले को किया गिरफ्तार

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button