अपराधदिल्ली एनसीआर

गाजियाबाद में किशोरी ने प्रेम प्रसंग में बाधा बन रहे पिता का किया मर्डर

पुलिस अधीक्षक द्वितीय ज्ञानेंद्र कुमार सिंह के मुताबिक़ किशोरी का महाराष्ट्र के एक युवक के साथ पिछले तीन महीने से प्रेम प्रसंग चल रहा था

दिल्ली से सटे गाजियाबाद जिले के वैशाली इलाके से दिल दहला देने वाला एक मामला सामने आया है। यहां वैशाली सेक्टर-चार में एक किशोरी ने प्रेम प्रसंग के बिच में बाधा बन रहे पिता अनिल सक्सेना का मर्डर कर दिया। पिता की हत्या के बाद से ही आरोपी किशोरी फरार है। शुक्रवार को इस हत्या के मामले में पुलिस को अहम सुराग हाथ लगा है।

पुलिस अधीक्षक द्वितीय ज्ञानेंद्र कुमार सिंह के मुताबिक़ किशोरी का महाराष्ट्र के एक युवक के साथ पिछले तीन माह से प्रेम प्रसंग चल रहा था लेकिन इसका पता लगने के बाद दंपती ने उसे कई बार रोका था। इस बात से नाराज होकर वह पिता से झगड़ा करती रहती थी। सोशल मीडिया अकाउंट पर किशोरी व उसके प्रेमी ने घर से दूर जाने की योजना तैयार करली थी।

इस दौरान पिता द्वारा विरोध करने पर हत्या की रणनीति भी तय हो चुकी थी। युवक नासिक से गुरुवार दोपहर के समय वैशाली पहुंचा था इसके बाद दोनों की सोसाइटी में ही मुलाकात हुई थी। एसएसपी (SSP) मुनिराज ने फरार किशोरी व उसके प्रेमी को पकड़ने के लिए टीम का गठन किया है।

वैशाली सेक्टर-चार में गुरुवार शाम के समय 58 वर्ष के अनिल सक्सेना की हत्या के बाद उनका शव बंद फ्लैट में मिला था। मृतक के हाथ व पैर रस्सी से बंधे हुए थे। शाम को पत्नी पिंकी के नौकरी से घर लौटने के बाद घटना के बारे में पता चला। जानकारी मिलने पर कौशांबी थाने की पुलिस घटनास्थल पर मौके पर पहुंची और जांच शुरू की।

वैशाली सेक्टर 4 में मृतक अनिल सक्सेना पत्नी पिंकी और एक 14 साल की बेटी के साथ रहते थे। मृतक की पत्नी पिंकी दिल्ली स्वास्थ्य मलेरिया विभाग में कार्यरत हैं। पिंकी गुरुवार सुबह ड्यूटी पर चली गई थीं और इस दौरान बुजुर्ग अनिल सक्सेना 14 साल की बेटी के साथ घर पर थे। अनिल सक्सेना पिछले काफी दिनों से बीमार चल रहे थे। शाम के लगभग 7.00 बजे पत्नी पिंकी ड्यूटी से घर लौटीं तो उन्हें अपने फ्लैट का दरवाजा बंद मिला लेकिन जब उन्होंने तुरंत दूसरी चाबी से फ्लैट का दरवाजा खोला तो उनके होश उड़ गए।

अंदर कमरे में 58 वर्ष के बुजुर्ग अनिल सक्सेना मृत हालत में बेड पर पड़े थे और उनके हाथ व पैर रस्सी से बंधे हुए थे और पूरे फ्लैट में उनकी 14 साल की बेटी मौजूद नहीं थी। मृतक की पत्नी पिंकी ने तुरंत आसपास बेटी को तलाश किया लेकिन उसका कुछ भी पता नहीं चला बेटी के ना मिलने पर पिंकी को तुरंत शक हुआ और उन्होंने कौशांबी थाना पुलिस को घटना की जानकारी दी।

घटनास्थल पर पुलिस अधीक्षक द्वितीय ज्ञानेंद्र कुमार सिंह, कौशांबी थाना प्रभारी प्रभात कुमार दीक्षित पुलिस बल के साथ पहुंचे। फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल से साक्ष्य एकत्रित किए। वहीं, पिंकी ने अपने पति की हत्या में परिचित के शामिल होने का शक जाहिर किया है। पुलिस की जांच के दौरान सामने आया है कि दंपती ने एक बेटी को गोद लिया था लेकिन पिछले कई दिनों से बेटी अपने पिता से नाराज थी, पिता और बेटी के बीच एक दो बार झगड़ा भी हुआ था। फिलहाल पुलिस बेटी की तलाश में जुटी है।

Anupama Musical Events

यह भी पढ़े: बुजुर्ग की आखिरी इच्छा- पत्नी, बेटी , दामाद न करें मेरा अंतिम संस्कार

Gagandeep Singh

गगनदीप सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। जहां ये दिल्ली से जुड़ी सारी क्राइम की खबरें निडर होकर अपने लेख से लोगों तक पहुंचाते है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button