अपराधट्रेंडिंगदिल्लीदेशविश्व

ड्रैगन चाकू मंगवाकर ऑन लाइन बेचने के मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने चीन से ड्रैगन चाकू मंगवाकर ऑन लाइन बेचने के मामले में तीन और आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान मोहम्मद...

चितरंजन पार्क थाना पुलिस ने चीन से ड्रैगन चाकू मंगवाकर ऑन लाइन बेचने के मामले में तीन और आरोपियों को गिरफ्तार किया है।आरोपी सरकारी एजेंसियों को गुमराह कर रसोई में इस्तेमाल होने वाले चाकू बताकर ड्रैगन चाकू मंगवाते थे और इनके पास से कुल 14,053 चाकू बरामद किए गए हैं। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान मोहम्मद युसूफ, आशीष चावला व मयंक बब्बर उर्फ मिक्की के तौर पर हुई है।

पुलिस को 18 जुलाई को सावित्री फ्लाईओवर के पास लावारिस बोरा पड़ा होने की सूचना मिली थी। बताया गया कि बोरे में ड्रैगन चाकू के पैकेट हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बोरा बरामद कर जांच की तो बोरे में मिले हर पैकेट में एक ड्रैगन चाकू बरामद हुआ। कुल मिलाकर 80 चाकू मिले।

सीसीटीवी कैमरे की जांच में पता चला कि यह बोरा डिलीवरी बॉय की बाइक से गिरा है। मामला दर्जकर सीआर पार्क थानाध्यक्ष रितेश शर्मा, इंस्पेक्टर जितेंद्र मलिक, एसआई अमित कुमार व एसआई विशाल तिवारी की टीम ने जांच शुरू की। पुलिस ने कोरियर पर दिए मालवीय नगर के पते से दो आरोपी मोहम्मद साहिल और वसीम को पकड़ लिया। इनसे 533 बटनदार ड्रैगन चाकू बरामद हुए।

जांच में पता चला कि साहिल ने खुद को ऑन लाइन शॉपिंग एप से रजिस्टर्ड कर रखा है और वह माई स्टाइल नाम से कंपनी के जरिए इन चाकुओं को ऑन लाइन बेचता है। मोहम्मद यूूसुफ उसके लिए काम करता है और वह इन चाकुओं को दिल्ली सदर बाजार से लाता है।

इस खुलासे के बाद मोहम्मद यूसुफ को गिरफ्तार कर लिया गया। उसने बताया कि वह चाकू आशीष चावला से खरीदता है। पुलिस ने आशीष को गिरफ्तार कर लिया। उसके गोदाम से 13,440 ड्रेगन चाकू बरामद किए गए। आशीष से पूछताछ के बाद मयंक बब्बर उर्फ मिक्की को गिरफ्तार कर लिया। मयंक के2एम इंपोर्टर एंड एक्सपोर्टर कंपनी का मालिक है और उसका कार्यालय चीन में है।

इसने ही चीन से चाकू खरीदने का ऑर्डर दिया था। यह चाकू चीन से भारत कंटेनर के जरिए भेजे गए। मयंक कस्टम विभाग को गुमराह कर इन चाकुओं को रसोई में इस्तेमाल होने वाले बताता था। पुलिस ने आशीष और मयंक के बीच हुए ट्रांजेक्शन को लेकर ई वे बिल और ट्रैक्स बिल भी बरामद कर लिए हैं। दक्षिण जिला डीसीपी बेनीता मेरी जैकर ने बताया कि चीन से आए इन बड़े वाले चाकुओं को ऑनलाइन प्लेटफार्म से लेकर ऑन लाइन तरीके से दिल्ली के दुकानदार व बदमाशों को बेचा जा रहा था।

Hair Crown Salon

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button