अपराधदिल्लीदेश

खुद को बताया एयरफोर्स अधिकारी, पहुंचा सलाखों के पीछे

गौरव ने बताया की जब वह एयरफोर्स की परीक्षा पास नहीं कर पाया तो उसे एयरफोर्स का अफसर बनने का शौक लग गया| गौरव लोगो को कभी आर्मी का तो कभी एयरफोर्स का अधिकारी बताता था

महिला दोस्त को रिझाने और उस पर रोब जमाने के लिए गौरव कुमार खुद को एयरफोर्स का अधिकारी कहता रहता था। तैनाती भी एयरफोर्स मुख्यालय में बताई थी।

बातो बातो में महिला ने एक दिन गौरव से एयरफोर्स मुख्यालय से सेल्फी मांग ली| फिर भी गौरव ने अपने कदम पीछे नहीं करे| इसकी जगह उसने कही से एयरफोर्स की वर्दी का इंतजाम किया और सेल्फी लेने लोक कल्याण मार्ग स्थित एयरफोर्स मुख्यालय पर जा पहुंचा।और एक दो तस्वीर खीच ली लेकिन उसकी हरकतों से सुरक्षाकर्मियों को संदेह हो गया।

पूछताछ करने पर जब शक यकीन में बदला तो युवक को पकड़ दिल्ली पुलिस को सौंप दिया। गौरव फिलहाल हवालात में है। गौरव कुमार मौर गांव, थाना टप्पल, जिला अलीगढ यूपी का निवासी है। दसवीं कक्षा पास गौरव दिल्ली में बुराड़ी में रहता है। इसने 2019 में एयरफोर्स में नौकरी के लिए फार्म भरा था, लेकिन गौरव को कामयाबी नहीं मिली।

पुलिस का कहना है की आरोपी युवक की महिला दोस्त है। इन पर रोब जमाने के लिए यह अपने को सेना का अधिकारी बताता रहा| एक महिला दोस्त को थल सेना और दूसरी को वायु सेना का। आरोपी जिस युवती को एयरफोर्स का अधिकारी बताया था उसे बातो बातो में कुछ संदेह हुआ।

इस पर उसने गौरव से एयरफोर्स हैडकवाटर से अपनी सेल्फी भेजने को कहा। उसने एयरफोर्स के कैपरोल पद की वर्दी का इंतजाम किया और वर्दी पहनकर अशोका होटल के सामने स्थित वायु सेना मुख्यालय के सामने सेल्फी लेने पहुंच गया। वहा उसने एक दो सेल्फी ली भी, लेकिन उसकी हरकतों से मुख्यालय की सुरक्षा में तैनात वायु सेना के जवानों को संदेह हुआ।

हाई प्रोफाइल सुरक्षा वाले इलाके में संदिग्ध के दिखने पर जवानों ने पूछताछ की और थोड़ी देर में ही उसकी हकीकत सामने आ गई। इसके बाद वायुसेना स्टेशन के सुरक्षा अधिकारी रिपु दमन सिंह ने गौरव को तुगलक रोड थाना पुलिस के हवाले कर दिया। तुगलक रोड थाना पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया था।

सोमवार को उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया। गौरव ने बताया की जब वह एयरफोर्स की परीक्षा पास नहीं कर पाया तो उसे एयरफोर्स का अफसर बनने का शौक लग गया। वह लोगो को कभी आर्मी का तो कभी एयरफोर्स का अधिकारी बताता था। आरोपी के कब्जे से आर्मी की तीन वर्दी (इनमे एक कैपटन की वर्दी है) एयरफोर्स की कैपरोल पद की एक वर्दी, एयरफोर्स का फर्जी परिचय पत्र व मोबाइल फोन बरामद किया गया है

Insta loan services

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button