दिल्ली एनसीआर

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर 10 साल के बच्चे को कैंटर ने कुचला, मौके पर हुई मौत

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर शुक्रवार तड़के सिकरोड़ा के पास एक कैंटर ने 10 साल के बच्चे को कुचल दिया। मोके पर ही उसकी मृत्यु हो गई।

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर शुक्रवार तड़के सिकरोड़ा के पास एक कैंटर ने 10 साल के बच्चे को कुचल दिया। मोके पर ही उसकी मृत्यु हो गई। वह अपने दो साथियों के साथ खेलते हुए एक्सप्रेसवे पर चला गया। कैंटर व्ही से फरार हो गया। गाजियाबाद से मेरठ की तरफ जाने वाले रास्ते पर खून में लथपथ पड़े बच्चे को देखकर एक कार चालक ने कार वही रोक दी। जैसे ही कार चालक ने कार की ब्रेक मारी तो इतने में पीछे से आ रहीं तीन कार भी आपस में भिड़ गईं। चारों कारें काफी क्षतिग्रस्त हुई। राहत की बात तो यह रही कि कार भिड़ने में कोई नुकसान नहीं हुई।

एसीपी नरेश कुमार ने कहा कि समद पुत्र आरिफ सिकरोड़ा गांव में चौथी कक्षा में पड़ता था। घर से वह अपने दोस्तो के साथ खेलने के लिए निकला था। खेलते हुए वह हाईवे पर चला गया, और वहां से जा रहे कैंटर ने उसे कुचल दिया। उन्होंने बताया कि घरवालों ने पोस्टमार्टम कराने से मना कर दिया। मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।

वहीं, शव को सड़क पर पड़ा देख रुकी स्विफ्ट कार में पीछे से टकराई अर्टिगा, स्कोडा तथा आई-10 कार पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गईं। सभी कार चालक अपने-अपने वाहन को लेकर वहां से चले गए। DCP यातायात रामानंद कुशवाहा ने बताया कि मामले में बच्चे के घरवालों की लापरवाही बताई गयी। एक्सप्रेसवे पर पैदल चलना और दो पहिया वाहन पर रोक है।

गम में बदला खुशी का माहौल

समद के चाचा ने बताया कि समद की बुआ की 5 दिसंबर को शादी है। बरात बागपत के निवाडे़ से आनी है। घर में खुशी का माहौल बना हुआ था, शादी की तैयारियां हो रही थीं पर हादसे में बच्चे की मृत्यु के बाद घर में कोहराम मच गया।

Accherishtey
यह भी पढ़ें: दिल्ली के इंद्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशन के पास दो गाड़ियों में टक्कर, 2 की मौत, 2 घायल

Related Articles

Back to top button