दिल्ली एनसीआरदेश

ओडिशा की रहने वाली BTech छात्रा ने हॉस्टल के कमरे में फंदा लगाकर दी जान

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि सुसाइड नोट से पता चला है कि छात्रा अवसाद ग्रस्त थी। शायद इसी वजह से उसने यह कदम उठाया।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि सुसाइड नोट से पता चला है कि छात्रा अवसाद ग्रस्त थी। शायद इसी वजह से उसने यह कदम उठाया। उसके मोबाइल की भी जांच चल रही है। जांच के बाद सबूत के आधार पर आगे की सारी कार्रवाई की जाएगी।

ओखला स्थित इंद्रप्रस्थ इंस्टीट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी में बीटेक की छात्रा ने हॉस्टल के कमरे में फंदा लगाकर जान दे दी। आत्महत्या से पूर्व छात्रा ने उदासी भरा अंग्रेजी संगीत चलाया और इसके बाद फंदे से झूल गई। मृतका की शिनाख्त श्राबणी खटुआ (19) के रूप में हुई है। पुलिस को मृतका के लैपटॉप पर लिखा एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है।

ओडिशा की रहने वाली श्राबणी खटुआ आईआईआईटीबी में बीटेक पहले वर्ष की छात्रा थी। वह कॉलेज परिसर में ही बने हॉस्टल में रहती थी। मंगलवार को वह अपने रूम पर मौजूद थी। इसी के चलते उसकी रूम मेट किसी काम से बाहर गई। शाम के समय जब वह कमरे पर पहुंची तो दरवाजा अंदर से बंद था। छात्रा ने काफी देर तक दरवाजा खटखटाया। अंदर से संगीत की आवाज आ रही थी। परेशान होकर उसने हॉस्टल की महिला सुरक्षा गार्ड मंजू तिवारी को जानकारी दी। कॉलेज प्रशासन को भी सूचना दे दी गई। कॉलेज प्रशासन, सिक्योरिटी व डॉक्टर वहां पहुंचे। तुरंत दरवाजा तोड़ा गया। अंदर पंखे से श्राबणी का शव लटका था। तुरंत पुलिस को सूचना दी गई।

बाद में छात्रा को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सुसाइड नोट से पता चला है कि वह अवसाद ग्रस्त थी। शायद इसी वजह से उसने यह कदम उठाया। उसके मोबाइल की सीडीआर की जांच की जा रही है। जांच के बाद तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। श्राबणी ने किसे जिम्मेदार ठहराया है, पुलिस कुछ भी बताने के लिए तैयार नहीं हैं।
Insta loan services

यह भी पढ़े: पुरानी गाड़ी वालों की बले-बले, दोबारा रजिस्ट्रेशन करा चला सकेंगे पुरानी गाड़ी

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button