दिल्ली एनसीआर

पालतू जानवरों की वजह से हुआ कोई हादसा, तो मालिक पर होगा इतना जुर्माना

नोएडा में कुत्तों के हमले और काटने की काफी घटनाएं सामने आई हैं और इसे देखते हुए अब डॉग पॉलिसी लागू करने की तैयारी की जा रही है।

शहर में कुत्ता पालने के लिए अब रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होने जा रहा है। 31 जनवरी, वर्ष 2023 तक पालतू कुत्ते का रजिस्ट्रेशन कराना होगा। पंजीकरण नहीं कराने पर प्राधिकरण इस मामले में जुर्माना लगाएगा। इसके अलावा अगर किसी पालतू कुत्ते या फिर बिल्ली की वजह से कोई घटना हो जाती है तो उसके मालिक को कुल 10 हजार रुपये का जुर्माना भरना पड़ेगा।

साथ ही घायल शख्स का इलाज भी कुत्ते या फिर बिल्ली के मालिक द्वारा ही कराया जाएगा। वैक्सीनेशन प्रमाणपत्र की कापी को जमा कराने के बाद ही पंजीकरण कराया जा सकेगा। शहर में कुत्तों को लेकर चल रहे विवाद के बाद अब यह फैसला लिया गया है।

आपको बता दे की शनिवार को होने जा रही नोएडा प्राधिकरण की 207वीं बोर्ड बैठक होगी और उसमे डॉग पॉलिसी को मंजूरी मिलने के काफी ज्यादा आसार हैं। नोएडा में कुत्तों के हमले और काटने की काफी घटनाएं सामने आई हैं। इन घटनाओं को देखते हुए डॉग पॉलिसी लागू करने के लिए तैयारी की जा रही है। बता दे की प्राधिकरण बोर्ड में पॉलिसी को मंजूरी मिलने के बाद से शहरवासियों से आपत्तियां मांगी जाएंगी। और आपत्तियां दूर कर यह पॉलिसी लागू कर दी जाएगी।

ओएसडी इंदु प्रकाश के अनुसार 31 जनवरी से इस डॉग पॉलिसी को लागू करने की तैयारी की जा रही है। बिना रजिस्ट्रेशन किसी भी तरह का कुत्ता पालने वालों पर जुर्माने की दरें समय के साथ बढ़ती जाएंगी। रजिस्ट्रेशन में जितना भी विलंब होगा जुर्माने की राशि उतनी ही अधिक होती जाएगी। वहीं, हर सेक्टर के बाहर डॉग फीडिंग प्वाइंट भी बनाए जाएंगे।

इन सबकी साफ-सफाई की जिम्मेदारी आरडब्ल्यूए और साथ ही अपार्टमेंट ओनर्स एसोसिएशन की होगी। लावारिस कुत्तों की नसबंदी करने का अभियान चलाया जाएगा। क्लस्टर के आधार पर कुत्तों की नसबंदी और साथ में टीकाकरण किया जाएगा। और लावारिस कुत्तों का रिकॉर्ड भी रखा जाएगा। नसबंदी और टीकाकरण कराने वाले कुत्तों की पहचान के लिए उनके कुत्तों के कान पर निशान बनाया जाएगा।

अब घरों में ब्रीडिंग पर लगेगी रोक

कुत्ता पालने के नाम पर ब्रीडिंग के जरिये कुत्तों का कारोबार करने वालों पर अंकुश लगाने का प्रावधान भी इस पॉलिसी में किया गया है और घरों में ब्रीडिंग पर बिलकुल प्रतिबंध लगाया जाएगा। ऐसा करने वालों को भारी जुर्माना भरना पड़ेगा।

18 शेल्टर होम में रहेंगे आक्रामक और बीमार कुत्ते

शहर में कुल 18 जगह डॉग शेल्टर बनाए जाएंगे और इनमें से चार का काम जल्द पूरा हो जाएगा। इनका डिजाइन आदि सब तैयार कराया जा रहा है। अधिकारियोंके अनुसार आक्रामक और बीमार कुत्तों को ही इस शेल्टर होम में रखा जाएगा। इन कुत्तो की देखरेख का जिम्मा आरडब्ल्यूए और साथ ही एओए को दिया जाएगा।

Accherishtey

ये भी पढ़े: मरे पिता को जिंदा करने के लिए देना चाहती थी बच्चे की बलि, आरोपी गिरफ्तार

Gagandeep Singh

गगनदीप सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। जहां ये दिल्ली से जुड़ी सारी क्राइम की खबरें निडर होकर अपने लेख से लोगों तक पहुंचाते है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button