दिल्लीनार्थ वेस्ट दिल्ली

कंझावला मामले में 11 पुलिसकर्मी सस्पेंड, ग्रह मंत्रालय की सख्ती के बाद बड़ा एक्शन

कंझावला मामले में एक बड़ी कार्रवाई करते हुए वारदात वाली रात तीन पीसीआर वैन और दो पिकेट पर तैनात कुल 11 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया।

कंझावला मामले में गृह मंत्रालय के निर्देश के बाद युवती अंजलि को गाड़ी से 13 किलोमीटर तक घसीटने वाले मामले में एक बड़ी कार्रवाई करते हुए वारदात वाली रात तीन पीसीआर वैन और दो पिकेट पर तैनात यानी की कुल 11 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है और दिल्ली के रोहिणी जिले के जिन कुल 11 पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है उनमें से दो दिल्ली पुलिस के सब इंस्पेक्टर, चार हेड कांस्टेबल, चार असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर, और एक कांस्टेबल भी शामिल हैं।

वारदात के दिन इनमें से कुल छह पीसीआर ड्यूटी पर थे और पांच पीकेट पर थे। इन सभी पुलिसकर्मियों पर ड्यूटी के दौरान लापरवाही बरतने का आरोप है। आपको बता दें कि जिस रूट पर ये मामला हुआ, उस रूट पर तैनात सभी के सभी पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

गुरुवार के दिन गृह मंत्रालय ने घटना वाली रात तीन पीसीआर वैन और दो पिकेट पर तैनात सभी पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए थे। गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस के विशेष पुलिस आयुक्त शालिनी सिंह की रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई के निर्देश दिए है। इस रिपोर्ट में सीनियर पुलिस अधिकारियों के सुपरविजन में भी कुछ कमी पाई गई।

Accherishtey

ये भी पढ़े: बवाना इलाके में पहले लड़की की हत्या, फिर खुद की ली जान

Gagandeep Singh

गगनदीप सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। जहां ये दिल्ली से जुड़ी सारी क्राइम की खबरें निडर होकर अपने लेख से लोगों तक पहुंचाते है

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button