दिल्ली

दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में 24 घंटे में 16 लोगों की हुई मौत, 112 दाखिल

देश की राजधानी दिल्ली में बुधवार की रात को थोड़ी बारिश और सुबह आसमान में हल्के बादल होने में पहले से काफी राहत रही है, पर इस राहत

देश की राजधानी दिल्ली में बुधवार की रात को थोड़ी बारिश और सुबह आसमान में हल्के बादल होने में पहले से काफी राहत रही है, पर इस राहत से पहले इस बार काफी गर्मी से दिल्ली के लोगों पर कहर बनकर टूटा। स्थिति यह है कि सफदरजंग अस्पताल में लू के कारण 24 घंटे में 13 लोगों की मौत गई, जो इस अस्पताल में एक दिन में सबसे ज्यादा रहे है।

इस कारन से इस अस्पताल में आये-दिन लू से मरने वालों की संख्या 19 हो गई है। अस्पताल प्रशासन के अनुसार`, पिछले 24 घंटे में लू लगने से अभी तक 33 मरीज अस्पताल में भर्ती किये गए, जिसमें अधिकार बुजुर्ग और बाहर काम करने वाले लोग ही थे।

RML के साथ-साथ बाकि अस्पतालों में भी काफी संख्या में लू से पीड़ित लोग भर्ती किये गए हैं। केंद्रीय टीम ने अस्पतालों की इमरजेंसी में जांच की और लू की वजह से मरीजों का दबाव काफी बढ़ गया।

इस बीच वीरवार को सुबह केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम एम्स, सफदरजंग, आरएमएल और लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज के अस्पताल की इमरजेंसी में गयी। केंद्रीय टीम ने अस्पतालों की इमरजेंसी में चिकित्सा की सुविधाओं की जांच की। साथ ही लू से पीड़ित होकर पहुंचने वाले मरीजों और मृतकों की भी सुचना ली।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने बताया, “की पिछले दिनों तापमान 52 डिग्री सेल्सियस तक चला गया है और यह पिछले 60 सालो में सबसे ज्यादा है। रात का तापमान भी 38 डिग्री सेल्सियस था। उत्तर भारत में हीटवेव से पीड़ित सभी लोगों की संख्या में काफी बढ़ावा हुआ है। 310 लोगों को सरकारी अस्पतालों में भर्ती किया है। 112 लोगो को तो छुट्टी दे दी गई है। 118 अभी भी भर्ती हैं और 14 की मृत्यु हो गई है।”

उल्लेखनीय है कि एनसीआर में बीते 48 घंटों में 226 लोगों की मौत हुई है। वहीं, दिल्ली में 138 लोगों की मौत हुई। हालांकि, दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने लू लगने से 22 लोगों की ही मौत की पुष्टि की है।

Related Articles

Back to top button