दिल्लीबिज़नेस

दिल्ली में ऑटो-रिक्शा का सफर हुआ महंगा, हो सकती है जेब ढीली

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ऑटो और टैक्सी चालकों की समस्या पर गौर करना चाहिए, लेकिन अभी तक किसी भी प्रकार का कोई फैसला नहीं लिया गया।

देश की राजधानी दिल्ली में लोग महंगाई से परेशान चल रहे है, और अब दिल्ली में लोकल सफर भी करना लोंगो को बहुत मेहंगा पड़ने वाला है। बता दें, दिल्ली में ऑटो टैक्सी चालक नाराज हो रहे हैं। दिल्ली के टैक्सी यूनियन के महामंत्री राजेंद्र सोनी ने बताया कि दिल्ली सरकार ने अब तक ऑटो-टैक्सी का किराया बिलकुल भी नहीं बढ़ाया है। साथ ही सीएनजी के दामों में भी सब्सिडी नहीं मिल रही। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ऑटो और टैक्सी चालकों की समस्या पर गौर करना चाहिए, लेकिन अभी तक किसी भी प्रकार का कोई फैसला नहीं लिया गया।

आपको बता दें, 18 अप्रैल 2022 को दिल्ली में सभी ऑटो टैक्सी चालक हड़ताल पर बैठे थे। जिसके बाद परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने वादा किया कि जल्द ही इसका हल किया जाएगा। लेकिन अब 5 महीने होने को हैं और सरकार ने गंभीरता से कार्य नहीं किया। दिल्ली सरकार ने किराये कमिटी का गठन किया था, उस पर भी कोई बात नहीं हुई।

बताया जा रहा है कि, ऑटो और टैक्सी चालकों को 35 रुपये किलो सीएनजी मिलनी चाहिए। लेकिन दिल्ली सरकार किसी भी तरह का कोई फैसला नहीं ले रही। अब लगता है कि आम आदमी पार्टी की पूरी सरकार केवल दूसरे राज्यों के विस चुनाव में लगी हुई है। यहां की परेशानियों को हल नहीं कर रही। राजेंद्र सोनी ने यह भी कहा कि अगर दिल्ली सरकार ने ऑटो टैक्सी चालकों की समस्या का कोई हल नहीं किया, तो फिर आंदोलन करना पड़ेगा जिसके कारन किराया बढ़ाना पड़ेगा।

Insta loan services

यह भी पढ़े: वाहन चालाने वालों के लिए खुशखबरी, Toll Plaza को बंद करने का एलान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button