अपराधदिल्लीदिल्ली एनसीआरवेस्ट दिल्ली

फ्लैट देने के नाम पर 10 करोड़ से अधिक की ठगी, आरोपी बिल्डर गिरफ्तार

आरोपी बिल्डर ने 31 से ज्यादा लोगों से ठगी की थी। आरोपी बिल्डर के खिलाफ एलओसी के अलावा गैर जमानती वारंट भी जारी थे। आरोपी से पूछताछ...

दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने दुकान और फ्लैट देने के नाम पर निवेशकों से ठगी करने वाले एक आरोपी बिल्डर को गिरफ्तार किया है।

पकड़े गए आरोपी बिल्डर की पहचान सेक्टर-19 वसुंधरा, साहिबाबाद, गाजियाबाद निवासी दीपक गुसैन (40) के रूप में हुई है। आरोपी ने 31 से अधिक लोगों से 10 करोड़ से ज्यादा की ठगी करी थी।

आरोपी के खिलाफ एलओसी और गैर जमानती वारंट भी जारी थे। पुलिस आरोपी बिल्डर से पूछताछ कर इसके बाकी साथियों का भी पता लगाने का प्रयास कर रही है।

आर्थिक अपराध शाखा के पुलिस अधिकारी के मुताबिक वर्ष 2012 में एशियन डेवलपर्स, प्राइवेट लिमिटेड नाम की निजी कंपनी में बावल के सेक्टर-2, रेवाड़ी, हरियाणा में फ्लैट और दुकानों के लिए एक विज्ञापन निकाला था और विज्ञापन देखकर निवेशकों ने बुकिंग करा ली थी।

निवेशकों को 27 माह में प्रॉपर्टी पर कब्जा देने की बात की गई थी। लेकिन अप्रैल 2014 में अचानक प्रोजेक्ट पर काम बंद हो गया और बिल्डर लोगों के रुपये लेकर फरार हो गया इसके बाद मामले की शिकायत पुलिस से की गई।

पुलिस को छानबीन के दौरान पता चला कि बिल्डर ने ठगी की रकम को दूसरी जगह ट्रांसफर कर लिया। पुलिस ने टेक्निकल सर्विलांस की मदद से आरोपी बिल्डर की तलाश शुरू की तो पता चला कि वह बार-बार लोकेशन बदल रहा है।

जांच के दौरान आरोपी के खिलाफ एलओसी जारी कर दी गई। इसके अलावा पटियाला हाउस कोर्ट ने आरोपी के खिलाफ गैर जमानती वारंट भी जारी कर दिए।

छानबीन के दौरान 9 अगस्त को टीम को यह सूचना मिली कि आरोपी तिलक नगर इलाके में आने वाला है। पुलिस ने एरिया की निगरानी शुरू कर दी।

बाद में आरोपी को एक डेंटल क्लीनिक के बाहर से गिरफ्तार कर लिया। छानबीन के दौरान पुलिस को यह पता चला  कि आरोपी ने कॉमर्स से पोस्ट ग्रेजुएशन किया हुआ है।

Hair Crown यह भी पढ़े: जिला अदालत में पेशी पर आए आरोपी की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button