ईस्ट दिल्लीदिल्ली

दिलशाद गार्डन इलाके में नौवीं कक्षा के छात्र की संदिग्ध हालात में मौत

राजधानी दिल्ली से हैरान करने वाला मामला सामने आया है आपको बता दे की नौवीं कक्षा के छात्र की स्कूल के अंदर एक क्लास से दूसरी क्लास में...

राजधानी दिल्ली के दिलशाद गार्डन इलाके में स्कूल के भीतर एक क्लास से दूसरी क्लास जाते वक्त नौवीं कक्षा के छात्र की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। स्कूल की सीढि़यां चढ़ते वक्त वह अचानक से अचेत हो गया। पहले उसे नजदीकी हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां से उसे दूसरे हॉस्पिटल रेफर कर दिया गया। वहां छात्र को मृत घोषित कर दिया गया।

बेटे की मौत की सुचना मिलते ही परिजन हॉस्पिटल पहुंच गए। सीमापुरी थाना पुलिस ने मृतक बच्चे के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जीटीबी हॉस्पिटल भेजा। पीड़ित परिवार ने अपने बेटे की मौत के मामले में कोई आरोप नहीं लगाया है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के अनुसार पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही वजह का खुलासा हो पाएगा। पुलिस के अनुसार, 14 वर्षीय छात्र अपने परिवार के साथ दिलशाद गार्डन में रहता था। इसके परिवार में माता-पिता और अन्य सदस्य हैं।

सुमित के माता और पिता दोनों ही डॉक्टर हैं। वह दिल्ली के दिलशाद गार्डन के नामी पब्लिक स्कूल में नौवीं कक्षा का छात्र था। सोमवार सुबह के वक्त वह ठीक-ठाक स्कूल गया था। स्कूल में भी वह सामान्य था। सुबह लगभग 9.00 बजे एक क्लास से दूसरी क्लास जाने के लिए सुमित सीढि़यां चढ़कर जा रहा था। अभी छात्र सुमित कुछ ही दूर चला था कि अचानक अचेत होकर सीढि़यों पर गिर गया और फिर बाकी छात्रों ने स्कूल के टीचर्स को जानकारी दी। फौरन टीचर उसे निजी गाड़ी से नजदीकी हॉस्पिटल ले गए।

जहां से उसे किसी बड़े हॉस्पिटल ले जाने के लिए कहा गया। टीचर्स उसे दूसरे हॉस्पिटल लेकर पहुंचे, लेकिन वहां छात्र को मृत घोषित कर दिया गया। चूंकि मामला संदिग्ध था, इसलिए हॉस्पिटल ने मामले की जानकारी सीमापुरी थाना पुलिस को दे दी। पुलिस भी वहां पहुंच गई और फिर मृतक छात्र का शव कब्जे में लिया गया। पुलिस ने जब मृतक छात्र के परिजनों से पूछताछ की तो पता चला कि छात्र को पहले से किसी भी तरह की बीमारी नहीं थी, लेकिन जब छात्र की मौत हुई तो उसके मुंह से झाग निकल रहे थे। पुलिस ने छात्र की मौत का कारण पता लगाने के लिए पोस्टमार्टम करवाया है। पीएम की रिपोर्ट आने के बाद ही छात्र की मौत की सही वजह का खुलासा हो पायेगा।

Accherishtey

ये भी पढ़े: वाहनों पर ऐसे स्टीकर या फिर लिखवाने पर जल्द ही दंडित करेगा गुरुग्राम

Gagandeep Singh

गगनदीप सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। जहां ये दिल्ली से जुड़ी सारी क्राइम की खबरें निडर होकर अपने लेख से लोगों तक पहुंचाते है

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button