दिल्लीराजनीति

CM ने की आज विधायकों के साथ बैठक, बोले ‘जेल भी जाना पड़े तो विधायक डरें नहीं’

बुलडोज़र चलने से बहुत से लोगों को नुक्सान पंहुचा है और अब दिल्ली सरकार पीछे नहीं हट रही है जहां दिल्ली के सीएम द्वारा विरोध किया हजा रहा है

दिल्ली में चल रहे बुलडोज़र को रोकने के लिए लोगों द्वारा बहुत कोशिश की गयी जिसमे वो असफल रहे लेकिन अब दिल्ली सरकार ने इस मुद्दे पर नज़र डाली है जहां पहले डिप्टी चीफ मिनिस्टर द्वारा अमित शाह को इस मामले पर पत्र भेजा गया था और अब खुद दिल्ली के मुख्यमंत्री इस मामले पर अपनी टिप्पणियां दें रहे है। इसी के चलते उन्होंने आज आपने पार्टी के विधायकों के साथ कुछ फैसले लिए है।

बता दें की बुलडोज़र चलने से बहुत से लोगों को नुक्सान पंहुचा है और अब इस मामले में दिल्ली सरकार पीछे नहीं हट रही है जहां दिल्ली के सीएम द्वारा विरोध किया हजा रहा है। साथ ही वह केंद्र सरकार को गलत ठहरा रहे है और बोल रहे है कि यह 63 लाख लोगों के मकानों को तोड़ने कि प्लानिंग कर रहे है जिसमे 80% दिल्ली अतिक्रमण के दायरे में आ जायेगा।

रिपोर्ट्स द्वारा केजरीवाल ने कहा कि 75 साल में जितनी भी दिल्ली बनी है वो प्लानिंग से नहीं बनी लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि 80% दिल्ली को यूही तोड़ दिया जायेगा। हालाँकि, आज केजरीवाल ने इस मामले पर विधायकों के साथ मीटिंग करी जहां उन्होंने बोला कि ‘ अगर अतिक्रमण की ऐसी गतिविधियों का विरोध करते हुए जेल भी जाना पड़े तो डरे नहीं। ‘

केजरीवाल का यह भी कहना है कि लोगों को बिना कोई सूचना या नोटिस के उनके मकानों में बुलडोज़र चलाया गया है जहां उन्हें बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ा क्योकि उन्हें सामान हटाने का भी वक़्त नहीं मिल रहा है । साथ ही बोले कि ‘ लोग चिल्ला-चिल्लाकर कह रहे हैं कि मेरे पास कागज हैं, लेकिन कागज नहीं देखे जा रहे बस सीधे बुलडोजर चलाया जा रहा है। ‘

Aadhya technology
यह भी पढ़े: दिल्ली में और सस्ती हुई ‘ताजा बियर’, जानिए रेट लिस्ट

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button