दिल्लीदिल्ली एनसीआर

प्रगति मैदान का निर्माण कार्य हुआ पूरा, दिल्ली-यूपी-हरियाणा के लोगों को मिलेगा लाभ

प्रगति मैदान टनल और पांच अंडरपास का निर्माण पूरा हो गया है, इसी के चलते रविवार यानि कल प्रधानमंत्री द्वारा इसका उद्घाटन होने वाला है

सरकार द्वारा लोगों के लिए बहुत से निर्माण कार्य चल रहे है। उनमे से एक है प्रगति मैदान टनल (एकीकृत ट्रांजिट कारिडोर परियोजना) और पांच अंडरपास का निर्माण कार्य चल रहा था जो की पूरा हो गया है। इसी के चलते रविवार यानि कल प्रधानमंत्री द्वारा इसका उद्घाटन होने वाला है।

बात दें कि यह प्रोजेक्ट बहुत समय से चल रहा था लेकिन अब यह पूरा हो गया है। इस निर्माण के बाद दिल्ली, नोएडा, गुरुग्राम, फरीदाबाद के साथ दिल्ली एनसीआर में बहुत से लोगों को इससे फायदा होने वाला है। इसकी शुरुआत कल से होने वाली है जिसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सुबह 10 बजे किया जायेगा।

हालाँकि, इसके शुरू होने के बहुत से फायदे बताये गए है जिसमे कि बहुत से लोगों का सफर आसान हो जायेगा साथ ही प्रदुषण भी कम हो जायेगा। इतना ही नहीं लोगों को जाम से छुटकारा मिलेगा जिससे वो अपने काम पर समय से पहुंच सकेंगे।

सुरंग सड़क से प्रति वर्ष करीब 13000 टन कार्बनडाई आक्साइड होगी कम

ITO के चेयरमैन एल सी गोयल कहते हैं कि 2017 में किए गए एक सर्वे में यह बात सामने आई थी कि इस क्षेत्र से हर रोज़ एक लाख 14 हजार वाहन ट्रैफिक गुजरता हैं। लेकिन अब संख्या बढ़कर 1 लाख 30 हजार से लेकर 1 लाख 40 हजार प्रतिदिन हो चुकी होगी। इसी के चलते परियोजना के शुरू होने से प्रति वर्ष करीब 13000 टन कार्बनडाई आक्साइड कम होगी।

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम

बता दें कि इस प्रोजेक्ट में हुई Wall Painting दुनिया का रिकॉर्ड सेट करेगी और अपना नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज करेगी। साथ ही आइटीपीओ के चेयरमैन एल सी गोयल ने बताया कि अभी साउथ कोरिया में ही 25 हजार मीटर क्षेत्र में हाथ से बनी वाल पेंटिंग है, जबकि प्रगति मैदान में एक लाख मीटर से भी अधिक क्षेत्र में हाथ से बनी Wall Painting है जो दुनिया की सबसे बड़ी पेंटिंग होगी।

Hair Crown Salon
यह भी पढ़े: इन 75 शहरों में शुरू होने वाली है Vande Bharat Train, करेगी राजधानी को फेल

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button