दिल्ली

दिल्ली सरकार इन Notified Industrial Areas की बदलेगी रूपरेखा

दिल्ली सरकार दिल्ली के Notified Industrial Areas को बेहतरीन बनाना चाहती है। सरकार ने अध‍िसूच‍ित औद्योग‍िक क्षेत्रों की योजना तैयार कर दी है।

दिल्ली सरकार दिल्ली के Notified Industrial Areas को बेहतरीन बनाना चाहती है। इसके लिए सरकार ने 27 अध‍िसूच‍ित औद्योग‍िक क्षेत्रों की योजना तैयार कर दी है। इस योजना का प्लान DSIIDC तैयार करेगी। इसके साथ फर्म की नियुक्ति की जाएगी। इस फर्म का काम होगा अलग-अलग औद्योगिक क्षेत्र का प्लान का लेआउट तैयार करेगी।

दिल्ली के उद्योग मंत्री सतेंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली में 27 नोटिफाइड औद्योगिक क्षेत्र हैं। इन इलाको में कई इंडस्ट्रियल यूनिट्स चल रहे है। जैन ने आगे कहा कि यहां ये इंडस्ट्रियल एरिया इस लिए बनाया गया था ताकि भविष्य में इसका विकास किया जा सके। सालों से अनेक सरकारे आयी और गई। लेकिन किसी ने इस एरिया का विकास नहीं करवाया।

बता दें कि ले-आउट तैयार करने वाले सलाकारों पर दिल्ली सरकार और औद्योगिक संघ 50-50 फीसदी रूपये खर्च करेगी। वही सरकार ने प्लान तैयार करने की समय सीमा तय की है। केजरीवाल सरकार दिल्ली के लाखों लोगों को रोजगार का अफसर देना चाहती है। इसके चलते 27 औद्योगिक क्षेत्रों का पुर्नविकास कर इलाके को स्वच्छ, हरा-भरा और बेहतरीन बनाने के लिए काम किया जा रहा है।

Notified Industrial Areas

दिल्ली सरकार ने आनंद पर्वत, शाहदरा, समयपुर बादली, जवाहर नगर, सुल्तानपुर माजरा, हस्तसाल पाकेट-ए, नरेश पार्क एक्सटेंशन, लिबासपुर, पीरागढ़ी गांव, ख्याला, हस्तसाल पाकेट-डी, शालीमार गांव, न्यू मंडोली, नवादा, रिठाला, स्वर्ण पार्क मुंडका, हैदरपुर, करावल नगर, डाबरी, बसई दारापुर, मुंडका उद्योग नगर, मुंडका में फिरनी रोड, रणहोला, प्रहलादपुर बांगर, टिकरी कलां, मुंडका (नार्थ) गोडाउन क्लस्टर, और नंगली सकरावती का विकास करेगी।

Insta loan servicesये भी पढ़े: भीषण गर्मी के बीच, दिल्ली सरकार ने स्कूलों के लिए जारी करें निर्देश

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button