दिल्लीदिल्ली एनसीआर

इन 39 कॉलोनियों और 4 गांवों में दिल्ली सरकार बिछाएगी सीवर की पाइपलाइन

दिल्ली सरकार ने यमुना को साफ़ करने के लिए दिल्ली जल बोर्ड की बैठक में शुक्रवार को छह STP को अपग्रेड करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है

दिल्ली में प्रदुषण के खिलाफ बहुत सख्त कदम सरकार द्वारा उठाये जा रहे है जिसमे नयी योजनाए बनाकर प्रदूषण को जल्द खत्म करने का फैसला लिया गया है। इसी के चलते दिल्ली सरकार ने यमुना से प्रदुषण हटाने का काम शुरू किया हुआ है जिसके लिए अब छह Sewage Treatment Plant (STP) को अपग्रेड करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है।

बता दें कि दिल्ली सरकार ने यमुना को साफ़ करने के लिए बहुत महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। जिसमे दिल्ली जल बोर्ड की बैठक में शुक्रवार को छह STP को अपग्रेड करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। साथ ही 39 अनधिकृत कॉलोनियों व चार गांव में सीवर लाइन बिछाने की योजना को भी मंजूरी दी गयी है। जिसमे 1855 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट को अप्रूवल दे दीया गया है।

इस पूरे मामले की उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दिल्ली जल बोर्ड के साथ बैठक की अध्यक्षता की जिसमे कोंडली, कोरोनेशन, रोहिणी, पप्पन कलां, नरेला व निलोठी एसटीपी की क्षमता बढ़ाने की योजना को हरी झंडी दी गयी है। जिसमे क्षमता बढ़ाने पर 1367.5 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। सतह ही नयी तकनीक से पानी को साफ़ किया जायेगा और इन एसटीपी में नाइट्रोजन, फास्फोरस हटाने के साथ-साथ कीड़े भी मारे जा सकेंगे। उसके बाद साफ होने वाले पानी को झील में छोड़ा जाएगा। ओखला एसटीपी से यमुना तक साफ पानी पहुंचाने के लिए एक अलग लाइन बिछाई जाएगी।

झीलों का शहर बनेगा दिल्ली

इसी के साथ दिल्ली सरकार का यह भी लक्ष्य है कि इस शहर को झीलों का शहर जल्द बनाया जायेगा। इसके लिए 299 जलाशय और नौ झीलों को एडवांस किया जा रहा है जिससे वो मनोरंजक के क्षेत्र में बदल जायेगा। यह कदम उठाने से दिल्ली की बायोडायवर्सिटी में भी सुधार होगा और आसपास के ग्राउंडवाटर लेवल में भी सुधार आएगा।

Vishalgarh Farms
ये भी पढ़े: राजीव चौक से सोहना के लिए शरू हुआ नया एलिवेटेड रोड, 15 मिनट में होगा सफर तय

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button