दिल्ली

दिल्ली सरकार जल्द ही कॉलोनी और गांव में जोड़ेगी सीवर सिस्टम

दिल्ली सरकार संत नगर, सिंघू, शाहबाद, प्रधान एन्क्लेव और कुरेनी को घरेलू सीवर कनेक्शन से जोड़ने के लिए चैंबर का निर्माण करेगी...

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि दिल्ली सरकार संत नगर, सिंघू, शाहबाद, प्रधान एन्क्लेव और कुरेनी को घरेलू सीवर कनेक्शन से जोड़ने के लिए चैंबर का निर्माण करेगी। बता दें इन इलाकों में 64 कॉलोनियों समेत 10 गांवों में घरेलू सीवर कनेक्शन जोड़े जाएंगे।

दिल्ली सरकार ने कहा है की वर्ष 2025 तक यमुना की पूरी तरह सफाई करने, हर घर में 24 घंटे नल से साफ पानी देने और सभी अनधिकृत कॉलोनियों व गांवों के घरों को सीवर लाइन से जोड़ने के लिए काम कर रही है। बता दें सरकार सभी काॅलोनियों में निशुल्क सीवर कनेक्शन दे रही है। मनीष सिसोदिया ने शनिवार को दिल्ली जल बोर्ड को अलग -अलग इलाकों के घरों में निशुल्क सीवर कनेक्शन मुहैया कराने, पुरानी पाइप लाइन को बदलकर नई पाइप लगाने और झीलों से ग्राउंड वाटर रिचार्ज कराने व एसटीपी(STP) की क्षमता बढ़ाने आदि कार्यो को मंजूरी दी।

और इसी तरह करावल नगर और मुस्तफाबाद निर्वाचन क्षेत्रों में बिछाई गई घरेलू सर्विस कनेक्शन पाइप को इलाके के अलग-अलग सभी घरों के कनेक्शन से जोड़ा जाएगा।

इसमें चंदू नगर, मूंगा नगर, राजीव गांधी नगर (न्यू मुस्तफाबाद), नेहरू विहार, पुराना मुस्तफाबाद की गली नंबर-1 से 9, मुस्तफाबाद एक्सटेंशन गली नंबर-10 से 27, दयालपुर एक्सटेंशन ए, बी, डी, ई, F ब्लॉक और इसके अलावा आसपास के क्षेत्र (नया चौहानपुर गांव), खजूरी खास गांव एलओपी (LOP)और खजूरी खास ए-डी ब्लॉक, खजूरी खास एक्सटेंशन ई ब्लॉक, खजूरी खास एफ-ब्लॉक और चांद बाग ये सभी शामिल है।

अलीपुर गेस्ट हाउस से संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर तक की पुरानी पाइपलाइन भी बदली जाएगी। मनीष सिसोदिया ने बताया कि अलीपुर गेस्ट हाउस से संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर तक पुरानी पीएससी पाइप लाइन को नई एमएस पाइप लाइन से बदला जाएगा। इस लाइन की वजह से पानी की बर्बादी से बचा जा सकेगा।

मनीष सिसोदिया ने बताया कि केशोपुर फेज-एक एसटीपी की क्षमता को 12 एमजीडी से बढ़ाकर 18 एमजीडी की जाएगी। दिल्ली सरकार के विभिन्न वेस्ट वाटर ट्रीटमेंट प्लांट की क्षमता बढ़ाने के साथ-साथ उन्हें अपग्रेड भी कर रही है, जिससे गंदे पानी को रोका जा सकेगा और यमुना भी साफ होगी।

बता दें रोहिणी के सेक्टर-25 में झील नंबर-1 के निर्माण का कार्य किया जा रहा है। इस झील की गहराई जमीनी स्तर से केवल 1.5 मीटर नीचे ही है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने निरीक्षण किया और झील की अपर्याप्त क्षमता को देखते हुए इसे बढ़ाने का सुझाव दिया अब इस झील को करीब 6 मीटर नीचे गहरा किया जाएगा। मनीष सिसोदिया ने कहा है कि केजरीवाल सरकार अब दिल्ली को ‘झीलों का शहर’ बनाने के सपने को साकार करने के लिए युद्धस्तर पर काम कर रही है।

Aadhya technology

यह भी पढ़े: आसमान में मंडरा रहे ईरानी विमान से मिली बम की सूचना पर भारत में मचा हड़कंप

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button