दिल्लीनार्थ दिल्लीसाइबर क्राइम

Delhi: विदेश भेजने के नाम पर गुरुद्वारे के ग्रंथी से 1.25 लाख रुपये की ठगी

दिल्ली में गुरुद्वारे के मुख्य ग्रंथी से ठगी का मामला सामने आया है। ग्रंथी को विदेश में कीर्तन के लिए भेजने के नाम पर ग्रंथी से 1.25 लाख...

अमेरिका में कीर्तन के लिए भेजने के नाम पर दिल्ली के एक गुरुद्वारे के मुख्य ग्रंथी के साथ ठगी का मामला सामने आया है। उत्तरी जिला की साइबर थाना पुलिस ने गुत्थी को सुलझाते हुए ठगी के आरोपी को मध्य प्रदेश के इंदौर से गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपी की पहचान संजय यादव के रूप में हुई है।

इससे पहले भी आरोपी मुंबई व दिल्ली में ठगी की वारदातों को अंजाम दे चूका है। आरोपी के पास से 10 मोबाइल फोन के अलावा 11 डेबिट व एक आधार कार्ड बरामद हुए हैं। पिछले दिनों मजनू का टीला गुरुद्वारे के मुख्य ग्रंथी बलदेव सिंह ने गृह मंत्रालय के साइबर क्राइम पोर्टल पर ठगी की शिकायत करि थी।

बलदेव सिंह ने बताया कि किसी अज्ञात शख्स ने उनसे मोबाइल पर संपर्क किया था। उसने कहा कि वह उनको कीर्तन के लिए अमेरिका भिजवा देगा। बलदेव सिंह के राजी होने पर आरोपी ने वीजा फीस और मनी एक्सचेंज के नाम पर पीड़ित से अलग-अलग खातों में 1.25 लाख रुपये ले लिए।

इसके बाद उनका नंबर ब्लाक कर दिया। उत्तरी जिला पुलिस उपायुक्त सागर सिंह कलसी ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद साइबर थाने में 30 जुलाई को बलदेव सिंह की शिकायत के ठगी का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई। जांच के लिए थाना प्रभारी इंस्पेक्टर पवन तोमर, एसआई रंजीत व अन्यों को लगाया गया।

पुलिस ने सबसे पहले मोबाइल कॉल और आरोपी के बैंक खातों की जांच की और कॉल डिटेल से पता चला कि आरोपी ने सभी कॉल मध्य प्रदेश के इंदौर में अलग-अलग जगहों से करि थी। पुलिस ने एटीएम की सीसीटीवी फुटेज खंगालकर आरोपी की पहचान कर ली। छह अगस्त को उसे इंदौर से गिरफ्तार कर लिया गया।

आरोपी संजय यादव ने बताया कि वह खुद ग्रेजुएट है और उसका बेटा एलएलबी कर रहा है। उसे अपने बेटे की पढ़ाई और करियर के लिए 12 लाख रुपये की जरूरत थी, इसी लिए उसने ठगी की वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने बताया कि वह पहले भी ठगी की इसी तरह की वारदातों को अंजाम दे चुका है।

Hair Crown Salon

यह भी पढ़े: गिरफ्तार होने के बाद निकला त्यागी का घमंड, कहा मुझसे गलती हो गई

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button