दिल्ली

दिल्ली के मधु विहार कर्ज से उबर नही पाए तो जिंदगी से लिया छुटकारा, सुसाइड नोट बरामद

मधु विहार इलाके में कर्जा वापिस नहीं देने से परेशान दंपत्ति ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये लाल बहादुर

मधु विहार इलाके में कर्जा वापिस नहीं देने से परेशान दंपत्ति ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया है। पुलिस को मौके पर से एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें दावा किया गया कि दंपत्ति ने कुछ कर्जा लिया हुआ था। जिसको वह वापिस नहीं कर पा रहे थे। इसी कारण से उनको बार बार परेशान किया जा रहा था। पुलिस मामला दर्ज कर सुसाइड नोट को फॉरेंसिक लैब भेजकर उसकी लिखावट की जांच करने की कोशिश कर रही है। साथ ही सुसाइड नोट में जिनके नाम लिखे हुए हैं। उनसे भी पूछताछ करने की कोशिश की जा रही है।

जानकारी के मुताबिक मधु विहार पुलिस को बुधवार दोपहर गली नंबर-10, वेस्ट विनोद नगर स्थित मकान में दंपत्ति द्वारा सुसाइड करने की पीसीआर कॉल मिली थी। पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची। दरवाजा जबरन खोला गया था। अंदर फर्श पर दंपत्ति मृतावस्था में पड़े हुए थे। जिनकी पहचान दिनेश तिवारी और उनकी पत्नी नीलम पड़ी हुई थी।

दोनों के शवों को लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया। पुलिस को कमरे से एक सुसाइड नोट पड़ा मिला। जिसमें सुसाइड करने का कारण लिखा हुआ था। परिवार वालों ने बताया कि दिनेश तिवारी परिवार के साथ दूसरी मंजिल पर जबकि उसका भाई चन्द्रशेखर तीसरी मंजिल पर रहते हैं। चन्द्रशेखर ने बताया कि भाई दिनेश के 17 और 12 साल के बच्चे दोपहर स्कूल से वापिस घर आए थे।

काफी देर तक बच्चों ने दरवाजा को खटखटाया,अंंदर से कोई जवाब नहीं मिलने पर बच्चों ने मामले की जानकारी उसे दी थी। जब वह दूसरी मंजिल पर गया और काफी देर तक अंदर से बंद दरवाजे को खटखटाया। कोई जवाब नहीं मिले पर उसने दरवाजे को जबरन खेाला। अंदर उसका भाई और भाभी मृतावस्था में पड़ी हुई थी। जिसके बाद पुलिस को मामले की जानकारी दी थी।

Accherishtey
यह भी पढ़ें: दिल्ली के Old Age Home में लगी भीषण आग, 2 बुजुर्ग महिलाओं की मौत

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button