दिल्ली

दिल्ली की तपती गर्मी ने तोड़े बिजली की डिमांड के सारे रिकॉर्ड, 5769 MW पहुंची खपत

अप्रैल महीने में गर्मी कि वजह से बिजली कि खपत 5769 MW तक पहुंच गयी है, जो एक नया रिकॉर्ड सामने आया है और यह कल दुपहर 3:30 बजे दर्ज हुआ है

दिल्ली में गर्मी अभी थमने का नाम नहीं ले रही है। इस तपती गर्मी की वजह से बहुत से नुकसान देखने को मिल रहे है जिनमे से एक है बजली की खपत में इजाफा होना। जिस वजह से पावर डिमांड में एक नया रिकॉर्ड भी बन गया है।

बता दें कि दिल्ली में बढ़ती गर्मी कि वजह से बिजली पर ज्यादा जोर पढ़ना शुरू हो चूका है जिसने कल यानी बुधवार को एक नया रिकॉर्ड भी सेट कर लिया है । बात करे अप्रैल महीने कि तो इसमें गर्मी कि वजह से बिजली कि खपत 5769 MW तक पहुंच गयी है जो एक नया रिकॉर्ड सामने आया है और यह कल दुपहर 3:30 बजे दर्ज हुआ है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक एक हफ्ते पहले 20 अप्रैल ही एक रिकॉर्ड दर्ज किया गया था जो 5,761 मेगावाट था । साथ ही इस साल गर्मी ज्यादा बढ़ने से बिजली की डिमांड ज्यादा बढ़ रही है क्योकि दिल्ली में पीक पावर डिमांड अप्रैल 2022 में 18 दिन 5,000 मेगावाट को पार कर गई और बात करे बीते सालो की तो 2021 और 2020 में एक बार भी 5000 मेगावाट को पार नहीं हुआ था, 2019 में इसने सात मौकों पर 5000 मेगावाट का आंकड़ा पार किया ।

हालाँकि, दिल्ली में बिजली की मांग 1 अप्रैल से 29% तक की बढ़ोतरी हुई है। बात करे पिछले महीने की तो मार्च में बिजली की मांग 42% से अधिक बढ़कर 4,040 मेगावाट हो गई थी ।

अभी तक का रिकॉर्ड देखे तो इस महीने दिल्ली में तीन बारी बिजली की मांग के रिकॉर्ड तोड़े गए है जिसमे 19 अप्रैल को 5,735 मेगावाट थी; 20 अप्रैल को यह 5,761 मेगावाट और बुधवार को 5,769 मेगावाट थी।

Tez Tarrar App
यह भी पढ़े: दिल्ली से लंदन जाने के लिए शुरू होगी लग्जरी बस सेवा, 70 दिन का होगा सफर

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button