दिल्लीदिल्ली एनसीआरशिक्षा

DU ने छात्रों के लिए जारी की एडमिशन की तारीख, यह डाक्यूमेंट्स रखे तैयार

डीयू अंडर ग्रेजुएट कोर्सेज में प्रवेश के लिए 31 अगस्त तक सभी स्टूडेंट्स को अपने दस्तावेज व प्रमाणपत्र तैयार रखने होंगे

दिल्ली में DU के एडमिशन के लिए जो भी छात्र तैयार हो रहे है उनके लिए सूचना जारी कि गयी है जहां डीयू ने छात्रों को 31 अगस्त तक सभी दस्तावेज व प्रमाणपत्र तैयार रखने के लिए कहा है।

बता दें कि डीयू अब जल्द ही अंडर ग्रेजुएट कोर्सेज में प्रवेश के लिए एप्लिकेशन प्रक्रिया शुरू करने वाले है जिसमे 31 अगस्त तक सभी स्टूडेंट्स को अपने दस्तावेज व प्रमाणपत्र तैयार रखने होंगे। इस बार नियमो में बदलाव किया गया है क्योकि पहले छात्र दस्तावेज न होने पर एफिडेविट देकर दाखिला ले सकते थे और छात्रों को दाखिला दे दिया जाता था और अधूरे प्रमाणपत्र के लिए उनसेे एक शपथ पत्र लिया जाता था, लेकिन इस बार डीयू ने दस्तावेज व प्रमाणपत्र को लेकर सख्ती दिखाई है।

हालाँकि, डीयू में इस बार ग्रेजुएट के दाखिले कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेस टेस्ट (CUET) के माध्यम से होने हैं और इसके बाद परीक्षा का अंतिम चरण इस महीने के अंत में समाप्त होगा जिसके बाद सीधा DU प्रशासन ने दाखिले की तैयारी शुरू कर दी है।

इस बार डीयू सख्त हो गयी है जहां उनका साफ़ कहना है कि इस बार छात्रों को किसी भी अधूरे प्रमाणपत्र व दस्तावेज के आधार पर दाखिला नहीं दिया जाएगा। साथ ही बताया है कि डीयू दस्तावेज व प्रमामपत्र के लिए कोई एफिडेविट भी स्वीकार नहीं करेगा। इसके साथ ही DU ने स्पष्ट किया है कि आवेदक व माता-पिता के नाम दस्तावेज में लिखे नामों से मेल खाने चाहिए। इसके साथ ही दाखिले के समय किन-किन दस्तावेज व प्रमाणपत्रों की जरूरत होगी, इसकी सूची भी जारी की गई है।

डाक्यूमेंट्स की लिस्ट

  • आवेदक के नाम का दसवीं का प्रमाणपत्र, जिसमें जन्म तिथि और माता-पिता का नाम हो।
  • आवेदक के नाम का बारहवीं का प्रमाणपत्र, आवेदक का नाम सीयूईटी (यूजी) 2022 फॉर्म से मेल खाता हो।
  • आवेदक के नाम एससी, एसटी, ओबीसी-नॉन क्रीमी लेयर, कश्मीरी विस्थापित, पीडब्ल्यूडी, अल्पसंख्यक, सीडब्ल्यू श्रेणी के प्रमाणपत्र, सभी सक्षम प्राधिकारी सेे जारी होने चाहिए।
  • ओबीसी श्रेणी के तहत आने वाली जाति ओबीसी सेेंट्रल सूची में होनी चाहिए। आय प्रमाणपत्र 31 मार्च 2022 के बाद का होना चाहिए।
  • सक्षम प्राधिकारी की ओर सेे जारी आवेदक के नाम का ईडब्ल्यूएस प्रमाणपत्र होना चाहिए, यह प्रमाणपत्र भी 31 मार्च 2022 के बाद का हो।
  • सिख अल्पसंख्यक श्रेणी का प्रमाणपत्र दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी सेे अल्पसंख्यक दर्जे को प्रमाणित करता हो।
  • ईसाई अल्पसंख्यक श्रेणी के लिए बपतिस्मा प्रमाणपत्र-चर्च सदस्यता प्रमाणपत्र जरूरी है।
  • सशस्त्र बल श्रेणी के कर्मियों के बच्चों व विधवाओं के लिए शैक्षिक रियायत प्रमाणपत्र जरूरी है। इसके लिए फॉर्मेट भी जारी किया गया है।
  • फोटो के साथ दिव्यांगता प्रमाणपत्र आवेदक के नाम का सरकारी अस्पताल से सत्यापित होना चाहिए।
  • एक्सट्रा करिकुलर एक्टिविटी (ईसीए) व स्पोर्ट्स के प्रमाणपत्र आवेदक के नाम के होने चाहिए।

Tax Partnerयह भी पढ़े: ट्रैफिक पुलिस ने जारी किये नए नियम, अब फोटो से नहीं वीडियो से कटेगा चालान

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button