दिल्ली

राजधानी में अब चलेंगी इलेक्ट्रिक बाइक टैक्सी, जानें केजरीवाल सरकार का प्लान

देश की राजधानी दिल्ली में अब लोग बाइक टैक्सी सर्विस का फायदा नहीं उठा पाएंगे। दिल्ली में बाइक टैक्सी सर्विस पर केजरीवाल

देश की राजधानी दिल्ली में अब लोग बाइक टैक्सी सर्विस का फायदा नहीं उठा पाएंगे। दिल्ली में बाइक टैक्सी सर्विस पर केजरीवाल सरकार ने अब बैन लगा दिया है। अब ओला, उबर और रैपिडो जैसी कंपनियों से बाइक टैक्सी को बुकिंग नहीं हो पाएगी।

नियमों के उल्लंघन पर लगेगा जुर्माना:

परिवहन विभाग के नोटिस में बताया गया कि दो पहिये के सभी वाहन प्राइवेट वाहन होते हैं। यह टैक्सी के लिए इस्तेमाल नहीं हो सकते और बाइकों को टैक्सी बुकिंग में प्रयोग करना मोटर व्हीकल एक्ट 1988 का उल्लंघन है। बता दें, दिल्ली परिवहन विभाग से जारी हुए नोटिस में आगे यह बताया गया कि इन सभी रूल को तोड़ने पर पहली बार 5 हजार रुपये का जुर्माना और दूसरी बार तोड़ने पर 10 हजार रुपये का जुर्माना और जेल की सजा हो सकती है।

वहीं दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने यह कहा कि 2 पहिया, 3 पहिया और 4 पहिया के लिए एग्रीगेटर नीति अपने अंतिम चरण में है। नई योजना के चलते लाइसेंस प्रदान करने के लिए आवेदन करने में उनकी सहयता करने के लिए जल्द ही शुरू होगी।

इन कंपनियों पर होगा असर :

दिल्ली सरकार ने बाइक टैक्सी सर्विस पर तत्काल रूप से बैन लगाने का फैसला लिया है। सरकार के इस निर्णय से कैब फैसिलिटी देने वाली ओला, उबर और रैपिडो जैसी कंपनियों पर गहरा प्रभाव पड़ेगा। खास बात है कि दिल्ली जैसे शहर में बाइक टैक्सी सर्विस लोगों को काफी सस्ती साबित हो रही थी।

किफायती रेट में मिलती थी बाइक टैक्सी:

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली जैसे काफी भीड़ वाले शहर में बाइक टैक्सी सर्विस की मदद से लोग कम समय और कम पैसे में अपने गंतव्य तक पहुंच जाते हैं। बाइक टैक्सी सर्विस दिल्ली की संकरी गलियों में आसानी से मिल जाती थी। हालांकि दिल्ली सरकार ने इस सर्विस को यातायात नियमों के उल्लंघन का हवाला देते हुए रोक लगाने आदेश दिया है।

Accherishtey
यह भी पढ़ें: दिल्ली के बवाना में गर्भवती बहू को ससुराल वालों ने जिंदा जलाया, DCW ने पुलिस को भेजा नोटिस

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button