/* */
अपराधदिल्ली

दिल्ली के जाने माने बिल्डर को पहले लूटा और फिर चाकू मारकर उसकी हत्या

यह खबर दिल्ली के सिविल लाइंन से सामने आयी है जहां एक नामी बिल्डर राम किशोर अग्रवाल की लूटपाट के दौरान चाकू से मारकर हत्या कर दी गयी है

दिल्ली में लूटपाट की एक न एक खबरे रोज़ सामने आ रही है जहां रविवार को ही एक बिल्डर को उसी के घर में घुसकर मार दिया गया। पुलिस अभी इसकी पूरी जांच कर रही है लेकिन अभी तक उनको पकड़ नहीं पायी है।

बता दें कि यह खबर दिल्ली के सिविल लाइंन से सामने आयी है जहां एक नामी बिल्डर राम किशोर अग्रवाल की लूटपाट के दौरान चाकू से मारकर हत्या कर दी गयी है। यह घटना सुबह रविवार सुबह 6:40 कि है जब अचानक घर की डोर बेल बजी दरवाजे पर सोसायटी का सुरक्षा गार्ड नागेश शोर मचा रहा था। उसका कहना था कि दो लड़के कोठी में घुसकर लूटपाट कर ले गए हैं और इसको सुनते ही अग्रवाल का बेटा विशाल जब कमरे में पंहुचा तो देखा कि उसके पिता किशोर अग्रवाल फर्श पर खून से लथपथ पड़े थे। उनका गला रेतने के अलावा उनके पेट और कमर पर चाकू के कई घाव थे।

उसके बाद परिवार के दूसरे लोगों कि मदद से उनको हॉस्पिटल लेजाया गया जहां उनको मृत घोषित कर दिया गया। इस घटना के बाद वहा के तमाम वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और जांच शुरू कर दी । साथ ही अग्रवाल के शव को लेकर सब्जी मंडी मोर्चरी भेज दिया गया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस का मानना है कि इतनी सुरक्षित जगह पर ऐसी घटना होना बहुत सवाल खड़े कर रही है और उनको शक है कि किसी की मिलीभगत के बिना इतना बड़ा कदम लेना बहुत सवाल खड़े करता है।

राम किशोर अग्रवाल अपने परिवार के साथ कोठी नंबर-1, राम किशोर अग्रवाल मार्ग, सिविल लाइंन इलाके में रहते थे। इनके परिवार में बेटा विशाल अग्रवाल, बेटी, बहू और एक पोती है। राम किशोर की गिनती दिल्ली के बड़े बिल्डरों में होती थी। राम किहोरे अपनी कोठी में ग्राउंड फ्लोर पर रहते थे और उनका परिवार ऊपर के फ्लोर पर रहते है। आपको बता दें कि राम किशोर बिल्डर होने के साथ-साथ समाजसेवी भी थे, इसलिए उनके घर के सामने वाली सड़क का नाम उनके ही नाम पर रखा हुआ था।

builder

गॉर्ड पर तानी बंदूक

सोसाइटी के गार्ड नागेश से पूछताछ के बाद पता चला कि सुबह करीब 5.45 बजे बाइक सवार दो लड़कों को सोसायटी में अंदर घुसने पर उसने टोका था और उनका कहना था कि वह मंदिर जा रहे है और उनको गार्ड ने बताया था कि यहा कोई मंदिर नहीं है लेकिन वह फिर भी अंदर चले गए। उसके बाद सुबह करीब 6.30 बजे नागेश घूमता हुआ राम किशोर अग्रवाल की कोठी पर पहुंचा तो एक बाइक सवार बाहर खड़ा था जबकि दूसरा गेट के पास दीवार फांदकर बाहर आ रहा था। इसके बाद जब गार्ड उन्हें टोकने लगा तो उन में से एक ने उसपर पिस्टल तान दी और वह दो लुटेरे वहा से बैग लेकर फरार हो गए।

सूचना अनुसार बताया गया है कि लुटेरे मोटी रकम लेकर भागे है। साथ ही पुलिस इसकी छान बीन पर जुटी हुई है जिसमे वह बाकि के स्टाफ नौकर से पूछताछ कर रही है कि कही किसी करीबी का इसमें हाथ नहीं है। सीसीटीवी द्वारा लूटेरो कि पहचान की जा रही है जिसके तहत वह जल्द इन लुटेरों को पकड़ सकते है।

Aadhya technology
यह भी पढ़े: दिल्ली में बनने जा रही है 100 Km लंबी सुरंग, ट्रैफिक से मिलेगा छुटकारा

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button