दिल्लीदिल्ली एनसीआर

दिल्ली में जारी बाढ़ का अलर्ट, नदी के तट से लोगों को पहुंचाया सुरक्षित जगा

दिल्ली में लगातार बारिश के कारण में पानी का भराव ज्यादा हो गया है जिसके चलते वहा के लोगों को निकालने के लिए 'अलर्ट' घोषित किया गया है

दिल्ली में लगातार बारिश के कारण यमुना नदी के तटवर्ती निचले इलाकों में पानी का भराव ज्यादा हो गया है जिसके चलते अब वहा के रहने वाले लोगों को निकालने के लिए ‘अलर्ट’ घोषित किया गया है और जलस्तर की चेतावनी दी है क्योकि इस साल जलस्तर में अब तक की सबसे अधिक वृद्धि है।

बता दें कि यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान 205.33 मीटर से ऊपर 206.18 मीटर तक पहुंच गया है जिसके चलते मंगलवार सुबह लोगों को निकालने के लिए ‘अलर्ट’ जारी किया गया। दरअसल, दिल्ली में बाढ़ की चेतावनी तब दी जाती है, जब हरियाणा के यमुनानगर में हथिनी कुंड बैराज से पानी छोड़ने की दर एक लाख क्यूसेक के निशान को पार कर जाती है और इसको देखते हुए ही नदी के तट के पास निचले इलाकों और अन्य बाढ़ संभावित क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को खाली कराया जाता है।

लेकिन इस बार बारिश कि वजह से नदी के तटवर्ती निचले इलाकों को खाली कराया जा रहा है और उनको ऊंचाई वाले स्थानों पर भेजा जा रहा है। साथ ही सरकारी स्कूलों और आसपास के इलाकों में रैन बसेरों में उनके ठहरने की व्यवस्था की गई है और जलस्तर में और वृद्धि की आशंका के मद्देनजर लोगों को सावधान करने के लिए घोषणाएं की जा रही हैं।

रिपोर्ट्स कि माने तो नदी के निचले इलाकों को बाढ़ संभावित क्षेत्र माना जाता है और वहा 37,000 लोग रहते हैं। ऐसे में ये दो महीने के भीतर यह दूसरी बार है जब अधिकारियों ने बाढ़ जैसे हालात के कारण निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थान पहुंचाया है।

Aadhya technology
ये भी पढ़े: CBSE ने किये 10वीं व 12वीं परीक्षा के पैटर्न में बदलाव, रटने का ट्रेंड होगा खत्म

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button