दिल्ली

यमुना के जलस्तर में सुधार, फिर भी पेयजल की समस्या बरकरार

यमुना नदी का जल स्तर अब भी सामान्य से 5.9 फ़ीट कम इसीलिए नई दिल्ली के कई इलाको मे पेयजल की आपूर्ति प्रभावित

पिछले कई दिनों से वजीराबाद में यमुना के जलस्तर में चल रही कमी में आज मामूली सुधार हुआ है। वजीराबाद तालाब का जलस्तर 667.80 से बढ़कर 668.60 फीट पर पहुंचा है। हालांकि अभी भी पेयजल की किल्लत बनी हुयी है जिसका कारण सामान्य जल स्तर से 5.9 फ़ीट की कमी बताई जा रही है। पिछले एक सप्ताह से ज्यादा समय से जलस्तर में सुधार न होने की वजह से दिल्ली के अधिकांश हिस्से में पानी की आपूर्ति कम दबाव पर हो रही है। इसकी मुख्य वजह से जल उपचार संयंत्रों में पेयजल उत्पादन प्रभावित हो रहा है। इसे कारण उत्तरी दिल्ली, उत्तर पश्चिमी दिल्ली और मध्यम दिल्ली व दक्षिणी दिल्ली के इलाको मे पेयजल की आपूर्ति प्रभावित हैं।

दिल्ली जल बोर्ड के अधिकारियो का कहना है कि पिछले दो दिन मे हुई बारिश की वजह से यमुना मे कुछ अधिक पानी आ रहा है। अधिकारियो ने यह भी कहा कि हरियाणा द्वारा कम मात्रा में पानी छोड़े जाने की वजह से यमुना का जलस्तर कम हो जाता है। जल बोर्ड ने कहा है कि हरियाणा से नहर के द्वारा आने वाले पानी नहर में कम छोड़ा जा रहा है, यमुना मे हरियाणा से कोई ख़ास अतिरिक्त पानी नहीं छोड़ा गया है और जलस्तर सामान्य होने तक पीने के पानी की समस्या बरकरार रहेगी।

जल स्तर मे कमी होने की वजह से जल बोर्ड की चिंता ज्यादा बढ़ गयी है दिल्ली मे हर दिन 1260 मिलियन गैलन पानी की मांग है। जल स्तर काम होने की वजह से पहले करीब 990 मिलियन गैलन की जलपूर्ति हो रही थी जो अब घटकर 940 मिलियन के करीब पहुंच गया है। दिल्ली जल बोर्ड ने कहा है कि लोग अपनी आवश्यकता के अनुसार पानी भरकर रखें तथ पानी का टैंकर मंगाने के लिए केंद्रीय नियंत्रण कक्ष से फोन नंबर 1916,23527679 व 23634469 पर संपर्क कर सकते हैं।

Madhavgarh Farms
ये भी पढ़े: Motorola जल्द लांच करने वाला है 200MP कैमरे के साथ एक दमदार स्मार्टफोन

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button