दिल्लीदेश

राजधानी में बनने जा रहा है भारत का पहला ई-कचरा प्रबंधन पार्क, जानें क्या होगा इसमें खास

इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों ने आम आदमी की ज़िन्दगी आसान बना दी है। लेकिन इसका निपटारा मुश्किल होता है। इसी कारण दिल्ली में ई-कचरा प्रबंधन पार्क बनेगा।

इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों ने आम आदमी की ज़िन्दगी आसान बना दी है। अलग-अलग इलेक्ट्रॉनिक अविष्कारों के माध्यम से संचार व्यवस्था का विस्तार हुआ है। कंप्यूटर, वाशिंग मशीन, ओवन जैसी इलेक्ट्रॉनिक चीज़ो ने आम आदमी का जीवन सुख-सुविधा से भर दिया है। लेकिन फायदों के बीच इलेक्ट्रॉनिक वेस्ट पर्यावरण के लिए मुसीबत खड़ी कर देता है।

देश भर में इलेक्ट्रॉनिक चीज़ मुसीबत बन चुकी है। ऐसे में इससे निपटारे के लिए सबसे पहले राजधानी दिल्ली ने कदम उठाया है। दरअसल दिल्ली के नरेला इलाके में भारत का पहला ई-कचरा प्रबंधन पार्क बनने जा रहा है। बता दें कि DDA ने इस पार्क के लिए 21 एकड़ की भूमि देने की हामी भरी है।

जानकारी के मुताबिक दिल्ली में हर साल 2 टन ई-कचरा इकठा होता है। वही दिल्ली समेत पूरे भारत में ई-कचरे से निपटारे के लिए कोई संगठित उपक्रम नहीं है। ई-कचरा प्रबंधन पार्क बनने से पर्यावरण को भी कम से कम नुक्सान होगा।

इस पार्क की क्या है खास बातें ?

  • ई-पार्क में संग्रह, भंडारण, से लेकर रिसाइकिलिंग की प्रक्रिया पर्यावरण को ध्यान में रखकर की जाएगी।
  • पार्क में सभी प्रकार की प्रसंस्करण इकाइयां होंगी, जिससे भविष्य में निर्माण के लिए सामान निकाला जा सके।
  • पार्क में पर्यावरण की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सुरक्षित तरीके से कचरे की रीसाइक्लिंग और निपटारा किया जाएगा।

Madhavgarh Farms
यह भी पढ़े: दिल्ली की DTC बसों में अब महिलाओं के बाद ये लोग भी फ्री में कर पाएंगे यात्रा

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button