दिल्ली

जानें क्यों हो रहा है दिल्ली में शराब की दुकानों का शटरडाउन?

देश की राजधानी दिल्ली में कारोबार ठीक से न चलने और नई आबकारी निति व्यवस्था की वजह से कई शराब की दुकानों को बंद करना पड़ा है

देश की राजधानी दिल्ली में कारोबार ठीक से न चलने और नई आबकारी निति व्यवस्था की वजह से कई शराब की दुकानों को बंद करना पड़ा है. आपको बता दें कि करीब 200 दुकाने दुबारा से बंद हो गई है.

आपको पता ही होगा की दिल्ली सरकार ने पिछली साल अपनी आबकारी निति 2021-22 के तहत कुल 849 शराब की दुकानों का लाइसेंस जारी किया था और इस साल मई के आखिर तक केवल 639 ही खुली और अब जून में यह संख्या घटकर 464 रह गई है.

बता दें 31 मई को समाप्त हुई आबकारी निति को दिल्ली सरकार के आबकारी विभाग की और से दो महीने के लिए बड़ा दिया गया था. शराब व्यापारिओं के कहना है कि कई लाइसेंस धारकों ने विस्तार का विकल्प नहीं चुना और दुकाने बंद कर दी.

एक शारब के व्यापारी का कहना है कि दुकान बंद करने के कई कारण थे जैस कि नॉन कंफिर्मिंग वार्डों में दुकानों को खोलना, शराब पर भारी छूट की वजह से प्रतियोगिता बढ़ गई और नए ब्रांड आने की वजह से दुकानों को बंद करने का कदम उठाना पड़ा.

अधिकारीयों का यह भी कहना है कि 272 नगरपालिका वार्डों में से 100 गैर-अनुरूप थे जहाँ दिल्ली मास्टर पालन नियमों के उल्लंघन के खिलाफ नगर निकायों की करवाई की वजह से दुकाने नहीं खुल सकी इसके अलावा एक शराब कारोबारी ने कहा कि खुदरा विक्रेताओं को छूट देने की अनुमति देने के बाद कुछ बड़ी कंपनिया एक ख़रीदे एक मुफ्त पाए वाली स्कीम लेकर आई थी और 40 प्रतिशत जितनी छूट भी दी थी.

Vishalgarh Farms

ये भी पढ़ें: भारत में Monkey Pox ने दी दस्तक? जांच के लिए भेजा गया सैंपल

Jagjeet Singh

जगजीत सिंह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे हैं। इन्होंने टेक्निकल, विश्व और एजुकेशन से सम्बंधित लेखो को अपने लेखन में प्रकाशित किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button