दिल्ली

दिल्ली में बन रहा है सबसे बड़ा Coronation Plant, 2025 तक यमुना होगी साफ

दिल्ली के लोगों के लिए सरकार ने Coronation WWT Plant का न‍िरीक्षण क‍िया, जो यमुना को साफ़ करने से लेकर दिल्ली कि पानी की समस्या का समाधान बनेगा

दिल्ली में पानी और यमुना कि समस्या के लिए सरकार द्वारा एक बड़ा कदम उठाया गया है। जहां एक बड़ा प्लांट इस दुविधा को सुलझाने के लिए बनाया गया है जिसका निरक्षण भी द‍िल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हो गया है।

बता दें कि दिल्ली के लोगों के लिए सरकार ने देश के सबसे बड़े कोरोनेशन प्लांट (Coronation WWT Plant) का न‍िरीक्षण क‍िया। जो यमुना को साफ़ करने से लेकर दिल्ली कि पानी कि समस्या का समाधान बनेगा। यह प्लांट 70 एमजीडी क्षमता का पूरी तरह से ऑटोमैटिक और बेहद शानदार प्लांट है। इसके जरिये लक्ष्य यह रहेगा कि 2025 तक यमुना नदी (Yamuna River) को साफ और स्वच्छ बनाया जाए।

Coronation WWT Plant

मुख्यमंत्री के कहना है कि इस प्लांट द्वारा पानी को एडवांस ट्रीटमेंट प्लांट में लाया जाएगा। साथ ही पानी को पल्ला लाकर यमुना के जरिए वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में लाएंगे, जिसके बाद 50-60 एमजीडी पानी पीने में इस्तेमाल कर सकेंगे। इसके जरिये एक तरफ सीवर साफ होगा, जिससे यमुना साफ होगी और दूसरी तरफ पीने के पानी में भी बढ़ोतरी होगी ।

हालाँकि, केंद्र सरकार से इस पानी को पीने के लिए इस्तेमाल किये जाने कि अनुमति मिल गयी है। साथ ही अपर यमुना रिवर बोर्ड ने सारे पैरामीटर्स पर जांच की है, इस दौरान दिल्ली जल बोर्ड (DJB) के उपाध्यक्ष सौरभ भारद्वाज और वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

Coronation WWT Plant

कोरोनेशन प्लांट पर 515.07 करोड़ रुपए खर्च होगा

इस प्लांट में कुल 515.07 करोड़ रुपए खर्च होंगे जिसमे कैपिटल वर्क्स सिविल और ईएंडएम पर 414.78 करोड़ रुपए खर्च किया जाएगा, जबकि ओ एंड एम एक साल का डीएलपी और 10 साल का संचालन और रखरखाव पर करीब 100.29 करोड़ रुपए खर्च किया जाएगा। प्रोजेक्ट की लागत का 50% हिस्सा केंद्र सरकार (Central Government) वहन करेगी, जबकि 50 फीसद हिस्सा दिल्ली सरकार वहन करेगी।

Hair Crown
यह भी पढ़े: अब नहीं करना होगा एयरपोर्ट पर सामान का इंतज़ार, शुरू हुई टैग सुविधा

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button