दिल्लीदिल्ली एनसीआरहेल्थ

दिल्ली में बनने जा रहा है सबसे बड़ा Homeopathic Hospital, मिलेगी सभी इलाज की सुविधा

दिल्ली में नरेला इलाके में आयुष मंत्रालय (Ministry of Ayush) की ओर से होम्‍योपैथी चिकित्‍सा का सबसे बड़ा अस्‍पताल मिलने जा रहा है

दिल्ली में लोगों की सुविधा के लिए बहुत से निर्माण किये जा रहे है। जहां सड़को से लेकर अस्पतालों तक को बनाया जा रहा है जिनमे से आधो का काम हो चूका है और आधे निर्माण का चल रहा है। ऐसे में अब दिल्ली में होम्‍योपैथी चिकित्‍सा का सबसे बड़ा अस्‍पताल खुलने जा रहा है।

बता दें कि दिल्ली में नरेला इलाके में चौधरी रामदेव चौक पर आयुष मंत्रालय (Ministry of Ayush) की ओर से होम्‍योपैथी चिकित्‍सा का सबसे बड़ा अस्‍पताल मिलने जा रहा है। इसका नाम नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ होम्योपैथी (National Institute of Homeopathy) से रखा जायेगा और इसके शुरुआत में 100 बेड की सुविधा रहेगी।

हालाँकि, इसी के साथ अन्य रोगों के लिए OPD की सुविधा मिलेगी और साथ ही इसमें इलाज के अलावा इंस्‍टीट्यूट होम्‍योपैथी में नए-नए रिसर्च पर काम करके इस मेडिकल सिस्टम को आगे तक ले जाने में सहयोग करेगा।

क्या – क्या होंगी सुविधाएं ?

इस अस्‍पताल में ओपीडी रजिस्‍ट्रेशन से लेकर, डायग्‍नोसिस, साइकेट्री, रिपर्टरी, ऑर्गानन ऑफ मेडिसिन, मेटीरिया मेडिका, ऑप्थेल्मोलॉजी, ओबीएस एंड गायनी, पीडियाट्रिक, डेंटल, इएनटी, लेबर वार्ड, आईसीयू, प्रेक्टिस ऑफ मेडिसिन, सीएसएसडी सहित अन्‍य कई विभागों में मिलेगी ओपीडी की सुविधा मिलेगी।

इतने एकड़ में बनेगा अस्पताल

जानकारी में बताया गया कि दिल्‍ली के नरेला में 10 एकड़ जमीन पर नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ होम्‍योपैथी (NIH) बनकर तैयार हो रहा है। लेकिन इसकी खास बात है कि यह अस्‍पताल उत्‍तरी भारत में लोगों के स्वस्थ से जुडी जरूरतों को पूरा करेगा। इसकी लागत कि बात करे तो ये इंस्‍टीट्यूट 287.40 करोड़ रुपये में बनकर तैयार हो रहा है। यह अस्‍पताल आयुष सेवाओं को लोगों तक पहुंचाने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

Aadhya technology
ये भी पढ़े: वाहन में लगी है ये चीज़े तो भरना पड़ेगा 10 हज़ार का चालान, जानिए नए नियम

Abhishikt Masih

अभिषिक्त मसीह तेज़ तर्रार न्यूज़ चैनल में बतौर कंटेंट राइटर कार्य कर रहे है। इन्होने अपने लेख से सच्ची घटनाओं को लिखकर लोगों को जागरूक किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button